कलेक्टर और महापौर ने नगर पालिका निगम धमतरी में चल रहे निर्माण कार्यो का किया निरीक्षण कार्यो के प्रगति सहित आयुक्त के कामकाज से कलेक्टर नाराज कहा – नियमित समीक्षा करूँगा

140

निगम की महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट्स की वस्तु स्थिति का जायज़ा लेने कलेक्टर महापौर ने संयुक्त रूप से किया शहर का सघन दौरा, निर्माण कार्यों में तेज़ी लाने कलेक्टर पी एस एल्मा ने दिया बल

धमतरी | कलेक्टर पी एस एल्मा और नगर निगम महापौर  विजय देवांगन ने निगम के विभिन्न महत्त्वाकांक्षी प्रोजेक्ट्स की वस्तु स्थिति और मैदानी स्तर पर उनके क्रियान्वयन में आ रही दिक्कतों को समझने और दूर करने का प्रयास करने संयुक्त रूप से शहर के विभिन्न स्थलों का सघन दौरा किया। धमतरी निगम द्वारा प्रस्तावित और निर्माणधीन कार्यों की प्रगति का एक ओर जहां जायज़ा लिया गया वहीं जिन कार्यों में दिक्कतें आ रही उन्हें भी जाना। मुख्यमंत्री की मासिक रेडियोवार्ता को सुनने के बाद निगम अमला के साथ महापौर और कलेक्टर सबसे पहले पोस्ट ऑफिस वार्ड में नागरिक सहकारी बैंक के पीछे मुख्यमंत्री पालिका बाजार योजना के तहत प्रस्तावित मल्टी लेवल पार्किंग सह व्यवसायिक परिसर स्थल का मुआयना किए। 10 करोड़ की लागत से बनने वाले इस मल्टी लेवल पार्किंग से शहर में बेतरतीब खड़ी रहने वाली वाहनों के लिए पार्किंग व्यवस्था सुनिश्चित हो सकेगी। आयुक्त नगर निगम श्री मनीष मिश्र ने बताया कि फिलहाल प्रस्ताव तकनीकी स्वीकृति के लिए उच्च कार्यालय भेजा गया है और कार्रवाई प्रक्रियाधीन है। इस भूमि का कुल रकबा 6226 वर्ग मीटर है। इसके अलावा इंडोर स्टेडियम स्थित मुख्यमंत्री धनवंतरी सस्ती दवाई योजना की प्रगति का जायज़ा भी कलेक्टर ने लिया और इस कार्य को शीघ्र अति शीघ्र पूरा करने के निर्देश दिए। ज्ञात हो कि इस योजना के तहत मरीजों को जेनरिक दवाइयां 50 % कम दर पर मिलेगी। ज्ञात हो शहर में दो जगह सस्ती दवा दुकान खोली जानी है , एक इंडोर स्टेडियम और दूसरी सुभाष नगर में प्रस्तावित है। इसी तरह शहर के सीवरेज का पानी को उपचारित करने मुजगहन में निगम द्वारा 30 करोड़ 31 लाख की लागत से सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट बनाया जाना है।इस प्लांट की क्षमता 19.60 एम एल डी है। इस पानी को उपचार के बाद सार्वजनिक निस्तार, निर्माण , सिंचाई इत्यादि की सुविधा मुहैया हो सकेगी। यहां भूमि आबंटन मिल चुका है। कलेक्टर ने तत्काल पाइप बिछा कर काम शुरू करने के निर्देश निगम के अभियंता को दिए। साथ ही मौके पर मौजूद तहसीलदार धमतरी सुश्री अर्पिता पाठक को निर्देशित किया कि पुलिया में पड़े मलबे को हटाने के लिए ग्रामीण सड़क अभिकरण के अधिकारियों को निर्देशित करें, जिससे राहगीरों को आवागमन में परेशानी न हो और किसी तरह की दुर्घटना की संभावना से बचा जा सके। फिलहाल सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट स्थल का ड्रेसिंग कार्य जारी है।

साथ ही कलेक्टर ने अर्जूनी में 3.56 हेक्टेयर में 634.52 लाख की लागत से प्रस्तावित हाई टेक बस स्टैंड के स्थल का मुआयना करते हुए तहसीलदार धमतरी को शासकीय भूमि आबंटन की कार्रवाई जल्द से जल्द करने के निर्देश दिए। पूर्व वाटर ट्रीटमेंट प्लांट के नजदीक एक और ट्रीटमेंट प्लांट 35 करोड़ की लागत से निगम द्वारा प्रस्तावित है। यहां कुल तीन ओवर हेड टंकी, जल शुद्धिकरण संयंत्र स्थापित किया जाना है।अब तक एक टंकी बन गई और एक अन्य टंकी 75% बनी है। कलेक्टर ने इस स्थल का मुआयना करते हुए सीमांकन की कार्रवाई जल्द पूरा करने कहा। इस अवसर पर सिहावा चौक में निगम द्वारा अधोसंरचना मद से बनाए जा रहे ऑडोटोरियम सह व्यवसायिक परिसर निर्माण का जायज़ा भी लिया गया। कलेक्टर ने इस दौरान 500 बैठक क्षमता वाले इस ऑडिटोरियम निर्माण को जल्द से जल्द पूरा करने के निर्देश दिए। बताया गया कि पांच करोड़ 16 लाख की लागत से बनने वाले इस ऑडोटोरियम में भविष्य में शहर के विभिन्न शासकीय कार्यक्रम, सामाजिक, सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किए जा सकेंगे। इसके अलावा यहां लाइब्रेरी भी बनाई जा रही है। इसमें मनोरंजक, ज्ञानवर्धक, प्रतियोगी परीक्षाएं संबंधी पुस्तकों की व्यवस्था कर विद्यार्थियों को सुविधा दी जाएगी । अभी इस कार्य की प्रगति 30% है। कलेक्टर ने इसमें भी तेजी लाने के निर्देश निगम अमले को दिए। अंत में महापौर और कलेक्टर ने विंध्यवासिनी मंदिर के पीछे बनाए जा अफोर्डेबल हाउसिंग प्रोजेक्ट तथा प्रस्तावित गड़कलेवा स्थल का मुआयना किया। यहां प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत कुल 116 अफॉर्डेबल आवास बनाए जा रहे हैं। बताया गया कि निगम अंतर्गत 17 करोड़ की लागत से चार स्थलों में कुल 401अफॉर्डेबल आवास बनाए जा रहे हैं। इनमें विंध्यवासिनी वार्ड के 116 आवास के अलावा इंद्रप्रस्थ कॉलोनी में 79 आवास, महिमा सागर वार्ड में 95, और जालमपुर वार्ड में 111 आवास बनाए जाएंगे। इस कार्यों में तेजी लाने कलेक्टर ने निर्देश दिए हैं। मौके पर निगम आयुक्त सहित उनका अमला भी मौजूद रहा।