सार्थक में मकर संक्रांति का पर्व हर्षोल्लास के साथ मनाया गया

190

सर गौरी शंकर श्रीवास्तव सेवा समिति द्वारा संचालित मानसिक दिव्यांग प्रशिक्षण केंद्र सार्थक में मकर संक्रांति का पर्व हर्षोल्लास के साथ ऑनलाइन मनाया गया।
धमतरी | मकर संक्रांति के दिन उगते सूर्य को अर्ध्य देने की परंपरा है सार्थक की छात्रा देवश्री सार्वा ने सूर्यदेव को अर्घ्य देकर सूर्य नमस्कार कर सूर्य की आराधना की । सार्थक के छात्र निखिल जैन, मनोहर तिवारी, रोशन साहू, लिकेश साहू ,विनीत बघेल, भारती पटेल, एकलव्य पटेल ऑनलाइन पतंग उड़ा कर बहुत खुश और आनंदित हुए।

नैतिक विश्वकर्मा ने अपनी चेयर में बैठे बैठे ही पतंग पकड़ा और अपनी खुशी जाहिर की। बच्चों ने अपने घरों में तिल के लड्डू खिलाकर अपने माता-पिता का आशीर्वाद लिया। सार्थक अध्यक्ष डॉ सरिता दोशी ने मकर संक्रांति की सभी प्रशिक्षकों एवं बच्चों को शुभकामनाएं प्रेषित की,और बताया कि, इन विशेष बच्चों को प्रत्येक त्यौहार की जानकारी देने के लिए हम सार्थक में समय-समय पर हर त्यौहार बच्चों के साथ मनाते आ रहे हैं, इससे बच्चे आनंदित होकर अपनी खुशियां एक दूसरे से बांटते हैं और बच्चों में सामाजीकरण की भावना का विकास हुआ है । सचिव स्नेहा राठौड़ ने पालकों को मकर संक्रांति की शुभकामनाएं देते हुए उनके सहयोग के लिए धन्यवाद किया। ऑनलाइन कार्यक्रम को सफल बनाने में प्रशिक्षक मैथिली गोड़े , मुकेश चौधरी, स्वीटी सोनी, देविका दीवान, सुनैना गोड़े का सहयोग रहा ।