शराब की होम डिलवरी सरकार की है व्यवस्थागत खामी तथा पूर्ण शराबबंदी की घोषणा पर है ग्रहण-विजय मोटवानी

62

शराब की होम डिलवरी  से घर-घर मे विपन्नता परोस रही है सरकार-विजय मोटवानी
धमतरी |  कोविड-19 संक्रमण को रोकने के लिए प्रदेश भर में लागू लॉकडाउन में भी शराब को घर-घर तक पहुंचाने के लिए होम डिलीवरी की सुविधा जो सरकार के द्वारा दी गई है वह निंदनीय है उक्त बातें भारतीय जनता युवा मोर्चा के जिला अध्यक्ष विजय मोटवानी द्वारा कही है उन्होंने आगे बताया कि आज घर घर में बहुसंख्यक मध्यमवर्गीय लोग सीमित आर्थिक व्यवस्था मैं अपना जीवन यापन कर रहे हैं इसका माध्यम गृहस्ती को चलाने वाली मातृशक्ति है जो अपने को उक्त निर्णय से असहज महसूस कर रही है।

लेकिन होम डिलीवरी के माध्यम से घरों में विपन्नता परोसा जा रहा है इसके लिए पूरी तरीके से सरकार जिम्मेदार है सरकारी तंत्र आज शराब ठेकेदारों के समक्ष घुटने टेक कर उक्त निर्णय लेने के लिए बाध्य हो गई है प्रदेश की कांग्रेस सरकार ने चुनाव के समय पूर्ण शराबबंदी की बात जो कही थी उक्त निर्णय के पश्चात पूर्ण शराबबंदी की बात कहना कपोल कल्पित व बेईमानी है श्री मोटवानी ने अविलंब घर पहुंच शराब के निर्णय को वापस लेने की मांग भी युवा मोर्चा की ओर से की है क्योंकि इससे सर्वाधिक ग्रसित युवा वर्ग है आने वाले समय में इसके घातक परिणाम कोरोनावायरस की तरह हो सकते हैं एक और यदि वायरस संक्रमित दूसरे लहर में युवाओं को सर्वाधिककिया है तो आने वाले समय में शराब भी युवाओं के स्वास्थ्य के लिए घातक होगा।