विलुप्त हो रही लोक संस्कृति को सहेजकर रखने की जिम्मेदारी हमारी

325

जिला पंचायत सदस्य अनिता ध्रुव ने दिया हरसंभव मदद का भरोसा
धमतरी | राजीव ग्राम दुगली में सिरजन संगठन निर्माण एवं जिले के लोक कलाकारों को संगठित करने वन विभाग विश्राम गृह में बैठक आहूत की गई| बैठक में गरियाबंद जिला में विगत आठ वर्षों से संचालित सिरजन लोक कला परंपरा के प्रमुख पदाधिकारियों ने प्रदेशाध्यक्ष डॉ दीनदयाल साहू भिलाई के निर्देशन में संगठन का उद्देश्य तथा सम्पूर्ण कार्यों की गतिविधियों की जानकारी देते हुए एकजुट होकर कार्य करने का आग्रह किया । जिला सिरजन गरियाबंद के संस्थापक गौकरण मानिकपुरी ने कहा कि छत्तीसगढ़ की लोक संस्कृति आज विलुप्त होने की कगार पर है उसे  सहेजकर रखने की  जिम्मेदारी हमारी है |  इलाज, अनुदान, पेंशन योजना, सांस्कृतिक कार्यक्रम में सहभागिता का लाभ, चिंन्हारी पंजीयन जैसे महत्वपूर्ण कार्यों  की जानकारी  दी |   
कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रही अनिता ध्रुव जिला पंचायत सदस्य ने कलाकारों को दीपावली की बधाई देते हुए संगठन बनाने अपनी सहमति जताई तथा हरसंभव मदद देने की बात कहते हुए संगठन को मजबूत बनाने अपनी ओर से एक हजार रुपए प्रदान किए। कलाकारों ने आदिवासी नेत्री अनिता ध्रुव को श्रीफल, साल भेंट एवं गुलाल लगाकर सम्मान किया | कार्यक्रम का संचालन जिला गरियाबंद के सिरजन साहित्य परिषद के अध्यक्ष आशु कवि कोपरा निवासी हलधर नाथ जोगी ने किया।

इस दौरान सेवक ठाकुर खेमबाई निषाद, गंगा बाई मानिकपुरी, चुम्मन सिन्हा, बुधारु राम, दौलतराम यादव, चैतूराम तारक, खेलावन निषाद, हलधरनाथ जोगी, गौकरण मानिकपुरी, राधा बाई मानिकपुरी, देविका पटेल, संगीता मानिकपुरी, सेवा राम सोरी, रोहित दास, मोहित नेताम, डाकेश्वर मानिकपुरी, गौत्रु नेताम, रतन निषाद, कांशी राम साहू, कोमल दास मानिकपुरी, कोमल दास मानिकपुरी उपस्थित रहे । आभार व्यक्त धमतरी निवासी लोक गायिका संगीता मानिकपुरी ने किया।