विपक्ष प्रदेश के संवेदनशील सरकार पर तथ्यहीन आरोप लगाना बंद करें – शरद लोहाना

131

जिले के कुछ जनप्रतिनिधि दलगत राजनीति से ऊपर उठकर जनता की सेवा करें

धमतरी | छत्तीसगढ़ की भूपेश बघेल सरकार कोरोना संक्रमण के समय जनता के साथ मजबूती से खड़ी हुई है इसका प्रत्यक्ष प्रमाण प्रदेश में कोरोना संक्रमण में नियंत्रण राष्ट्रीय औसत से ज्यादा कोरोना की सैंपल के साथ-साथ टीकाकरण में भी अन्य राज्यों से कहीं अधिक तेजी से कार्य किया जा रहा है यह बातें जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष शरद लोहाना, महापौर विजय देवांगन, पूर्व जिला अध्यक्ष मोहन लालवानी ने संयुक्त प्रेस वार्ता जारी कर कहा, साथ ही जिलाध्यक्ष शरद लोहाना ने कहा हमारे जिले के विपक्ष के जनप्रतिनिधि जनता की सड़कों में सेवा करने के बजाए AC कमरों में बैठकर वर्चुअल मीटिंग कर रहे हैं क्योंकि लॉकडाउन में यह टाइमपास का एक अच्छा माध्यम बन गया है और इसी टाइम पास के बहाने प्रदेश के भूपेश बघेल सरकार के ऊपर आरोप लगाए जा रहे हैं जो बेबुनियाद और तथ्यहीन है
एक रिपोर्ट के मुताबिक राष्ट्रीय औसत से ज्यादा प्रदेश में कोरोना सैंपल की जांच हो रही है लगभग 10 लाख की आबादी पर 1485 सैंपल की जांच हो रही है जबकि राष्ट्रीय स्तर पर 1152 है प्रदेश में हर दिन 45 से 50 हजार कोरोना संक्रमण सैम्पल लिए जा रहे हैं। ज्यादा संख्या में जांच कराने की वजह से भले ही आज छत्तीसगढ़ में अधिक लोग कोरोनावायरस से पीड़ित हो रहे हैं लेकिन उतनी ही तेजी से भी ठीक भी हो रहे हैं भूपेश सरकार के बेहतर स्वास्थ्य व्यवस्था से पिछले 3 दिनों में लगभग 35 हजार संक्रमित स्वस्थ हुए हैं।

महापौर विजय देवांगन ने कहा कि वर्तमान समय में राज्य सरकार द्वारा कितने गंभीरता से कार्य किया जा रहा है इसका परिणाम यह है कि धमतरी जिला में 1.37 लाख लोग का टीकाकरण लग चुका है और स्वास्थ्य विभाग अपने लक्ष्य के करीब है लेकिन विपक्ष के नेताओं को तो बस इसमें कमी नजर आती है नगर निगम जिला प्रशासन के द्वारा लगातार वार्डों में गांव में चौपाल लगाकर टीकाकरण के लिए प्रेरित किया जा रहा है आज पूरे जिले में लगभग 121 केंद्रों के माध्यम से टीकाकरण किया जा रहा है जो प्रदेश के भूपेश बघेल सरकार की संवेदनशीलता को दर्शाती है। लोगों की सुरक्षा के लिए प्राइवेट अस्पतालों में कोविड-19 का इलाज के साथ-साथ स्कूल कॉलेज में और ग्राम पंचायतों में आइसोलेशन सेंटर बनाया बनाकर पर्याप्त सुविधा मुहैया उपलब्ध कराई जा रही है जहां हमारे डॉक्टरों के द्वारा निरंतर बेहतर उपचार किया जा रहा है यही वजह है कि जिले के साथ प्रदेश में कोरोना से ठीक होने की दर अधिक है। मुख्यमंत्री महोदय के द्वारा प्रधानमंत्री जी के साथ 18 अप्रैल को हुए वर्चुअल मीटिंग के दौरान कोरोना टीकाकरण की मांग 18 वर्ष रखी गई थी। जिस पर प्रधानमंत्री के द्वारा आगामी 1 मई से 18 वर्ष से अधिक की आयु को कोरोना संक्रमण टीकाकरण के लिए आदेश किया गया है। इससे स्पष्ट होता है कि हमारे मुख्यमंत्री इस कोरोना संक्रमण के मामले में कितने संवेदनशील है। भाजपा के लोगों को चाहिए की वे राजनीति करने के बजाय केंद्र सरकार से पर्याप्त मात्रा में इंजेक्शन, दवाई और राहत कोष की मांग करें क्योंकि पूर्व में जारी 20 लाख करोड़ की राहत पैकेज का अभी तक पता नही है।

पूर्व जिला कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष मोहन लालवानी ने कहा की प्रदेश सरकार और कांग्रेस संगठन लोगों के सेवा करने के लिए तत्पर है आज प्रदेश के बहुत सारे कांग्रेस कार्यालय को आइसोलेशन सेंटर के रूप में उपयोग किया जा रहा है जिला कांग्रेस कमेटी के द्वारा जिला स्तर तथा ब्लॉक स्तर पर निरंतर लोगों के सेवा के लिए कंट्रोल रूम बनाकर खाद्य सामग्री पहुंचाने के साथ-साथ इलाज के लिए विशेष सुविधा मुहैया कराई जा रही है।
संगठन और सरकार द्वारा कंधे से कंधे मिलाकर निरंतर इस संकट की घड़ी में कार्य किया जा रहा है लेकिन एसी कमरों में बैठकर वर्चुअल मीटिंग के दौरान जिले के कुछ जनप्रतिनिधि सरकार में सामंजस्य का अभाव बता रहे हैं जिले के जनप्रतिनिधि जनता की सड़कों में सेवा करने के बजाए वर्चुअल मीटिंग कर रहे हैं।
जिले के जनप्रतिनिधि सरकार पर आरोप लगाने की अपेक्षा सड़कों पर आकर लोगों की सेवा करें क्योंकि जिले की जनता इस चीज को देख रही है। कांग्रेस पार्टी का हर एक सिपाही इस कठिन दौर में दलगत राजनीति से ऊपर उठकर लोगो की सेवा में तत्पर है। भाजपा के नेताओं से भी यही कहना चाहूंगा की वे राजनीति छोड़ लोगों की सेवा करें चुनाव 2023 में होना है जो अभी दूर है।