बालक शौर्य के सजगता से एक बड़ा हादसा टला

223

धमतरी | ग्राम छाती में नेशनल हाइवे एवम मोगरा नाली से लगा हुआ बंशी यादव के खेत मे बिजली के पोल है।जो बबूल के वृक्ष से सटा हुआ है ।सुबह करीब साढ़े 11 बजे उक्त खेत जिसे सेंचुवा निवासी श्रीमती अर्चना भूषण चन्द्राकर ने खरीदा है।जमीन को देखने एवम अनुमानित रूप से नाप करने के उद्देश्य से डॉ भूषण लाल चन्द्राकर महेंद्र कुमार तारक शौर्य प्रताप चन्द्राकर परस राम साहू योगेश्वर साहू व डोमन पटेल निवासी सेंचुवा उक्त खेत मे उपस्थित थे ।एवम पास के खेत मे भी कुछ महिलाएं कार्य कर रही थी।सभी लोग अपने अपने कार्य मे लगे हुए थे।

तभी अचानक खेत मे विघुत तार के बबूल के पेड़ में टकराने से बबूल के पेड़ व बिजली के तार में आग जलने लगे।उसे देखकर साथ मे गए बालक शौर्य प्रताप चन्द्राकर ने सभी को जोर से आवाज लगाकर खेत से निकलने के लिये चिल्लाया।तब सभी का ध्यान बबूल के पेड़ एवम बिजली के तार में जलते हुए आग की ओर गया और सभी दौड़कर खेत से बाहर आया ।ज्ञात हो ही वर्षा होने के कारण खेत पानी से भरा हुआ है और यदि तार टूटकर खेत मे गिर जाता से वँहा कार्य कर रहे सभी लोग गम्भीर हादसे के शिकार हो सकते थे।बालक शौर्य के सजगता से एक बड़ा हादसा टल गया। खेत से बाहर आने के बाद डॉ भूषण लाल चन्द्राकर ने विधुत विभाग छाती में कार्यरत बिजली मिस्त्री सुरेश कुमार को फोन कर इसकी जानकारी दी एवम उक्त क्षेत्र के पावर कट करने के लिए कहा।जिसके बाद बिजली विभाग द्वारा पावर कट किया गया तब आग बन्द हुआ।