पीएम मोदी ने महात्मा गांधी के सपने को साकार करने स्वच्छ भारत अभियान का शुभारंभ किया, इस मुहिम में सभी की सहभागिता जरुरी: रंजना

18

परेवाडीह में चलाये जा रहे स्वच्छता अभियान में शामिल हुई विधायक  

धमतरी | स्वच्छता के प्रति अपनी जागरूकता को सिद्ध करते हुए ग्राम पंचायत परेवाडीह में स्वच्छ भारत मिशन के अंतर्गत ग्रीन आर्मी समूह, ग्रामीण नवरत्न समिति, महिला कमांडो समिति सहित ग्रामीणों द्वारा स्वच्छता अभियान चलाया गया| विधायक रंजना साहू ने स्वच्छ भारत अभियान में सहभागिता निभाते हुए कहा कि स्वच्छ भारत अभियान का उद्देश्य केवल आसपास की सफाई करना ही नहीं है अपितु नागरिकों की सहभागिता से अधिक से अधिक पेड़ लगाना, कचरा मुक्त वातावरण बनाना, शौचालय की सुविधा उपलब्ध कराकर एक स्वच्छ भारत का निर्माण करना है। 

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा द्वारा राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के सपने को साकार करते हुए स्वच्छता अभियान 2 अक्टूबर 2014 को स्वच्छ भारत अभियान का शुभारंभ किया, जिसे आज पूरा देश स्वच्छता के प्रति जागरूक हुए हैं। देश में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए स्वच्छ भारत का निर्माण करना अत्यंत महत्वपूर्ण है| स्वच्छ भारत अभियान न केवल नागरिकों को स्वच्छता संबंधी आदतें अपनाने बल्कि हमारे देश की छवि, स्वच्छता के लिए तत्परता से काम कर रहे देश के रूप में बनाने में भी मदद करेगा।

विधायक श्रीमती साहू ने स्वच्छता में अपनी सहभागिता दे रहे महिला कमांडो समिति, ग्रीन आर्मी समूह को सम्मानित कर इस मुहिम को और आगे बढ़ाने की बात कही। ग्राम पंचायत परेवाडीह की सरपंच टिलेश्वरी साहू ने कहा कि हमारा ग्राम स्वच्छता के प्रति निश्चिंत ही आगे बढ़ रहा है| स्वच्छता एवं नशा मुक्ति की ओर निरंतर आगे बढ़ाने का प्रयास करेंगे। इस अवसर पर पूर्व जनपद सदस्य डीपेंद्र साहू, उपसरपंच सुखराम साहू, पंच देवेंद्र साहू , शीतलेश कुमार साहू, गैंदलाल साहू, बीरसिंग साहू, नंदू ठाकुर, कौशिल्या सोनवानी, केंवरा निर्मलकर, सतीश साहू, गौतम साहू, संतोषी ध्रुव, रिद्धि साहू, हिरमत साहू, पुष्कर साहू, ग्रीन आर्मी समूह अध्यक्ष सरस्वती यादव, महिला कमांडो अध्यक्ष केश्वरी साहू, भारत वाहिनी दुलारी बाई, गौठान समिति पोखन ध्रुव, राकेश साहू, ग्राम विकास समिति से पीलूराम निर्मलकर , युवराज साहू, सांवत यादव, जागेश्वर साहू , सुरेश साहू, पूर्स  सरपंच दीनदयाल साहू , ग्रामीण गुहलेदराम, भागीरथी साहू , भानुप्रताप  उपस्थित थे |

tushar