“दिव्यधाम” में दिखी सतयुग की झलक, ऐसा युग जिसमें मनुष्य ही नहीं बल्कि जानवरों में भी अहिंसा है

312

धमतरी। वर्तमान परिस्थिति में कोरोना संक्रमण के नियंत्रण एवं बचाव की दृष्टि से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए धमतरी के प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय “दिव्यधाम” में दीपावली पर्व मनाया गया। प्रतिदिन की तरह प्रातः मुरली क्लास होने के बाद भोग लगाया गया| इसके पश्चात ब्रम्हाकुमारी बहनों एवं अन्य भाई बहनों द्वारा दीप जलाकर दीपोत्सव पर्व मनाया गया।

आपको बता दें कि प्रतिवर्ष दीपावली त्यौहार के अवसर पर सेवा केंद्र में मां लक्ष्मी की विशाल रंगोली बनाई जाती है एवं रंगोली के चारों ओर भाई बहनों द्वारा दीए जलाए जाते हैं। जोकि बहुत ही आकर्षक दिखाई देता है। इस वर्ष सेवा केंद्र में स्वर्ग अर्थात सतयुग की एक झलक दिखाई गई है। एक ऐसा युग जिसमें मनुष्य ही नहीं बल्कि जानवरों में भी अहिंसा है, एक शांत सुखमय वातावरण चारों ओर है। प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय की संचालिका ब्रह्माकुमारी सरिता दीदी ने सभी भाई बहनों को दीपावली पर्व की बधाई देते हुए सभी से त्यौहार को सुरक्षित तरीके, सादगी से शांतिपूर्ण मानने की अपील की है।