जिला अस्पताल में पोस्ट कोविड ओपीडी प्रारम्भ, विशेषज्ञ चिकित्सकों की लगाई गई ड्यूटी

49

स्वस्थ हुए कोरोना संक्रमित मरीजों के मानसिक स्वास्थ्य से जुड़ी समस्याओं का किया जाएगा निदान
धमतरी | कोविड-19 के मरीजों के मानसिक स्वास्थ्य से जुड़ी समस्याओं जैसे अवसाद, बेचैनी, अनिद्रा आदि से संबंधित परामर्श एवं उपचार के लिए जिला अस्पताल में पोस्ट कोविड ओपीडी का संचालन आज से प्रारम्भ हो गया है। उक्त ओपीडी अवकाश के दिनों को छोड़कर प्रत्येक दिन खुलेगा।

 


मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. डी.के. तुर्रे ने बताया कि प्रमुख सचिव स्वास्थ्य डाॅ आलोक शुक्ला ने प्रदेश के सभी कलेक्टरों को पत्र लिखकर कहा था कि वर्तमान में ऐसा देख जा रहा है कि कोविड-19 के मरीजों के इलाज के बाद डिस्चार्ज किए जाने के उपरांत कुछ मरीजों को सांस लेने में कठिनाई, थकान, कमजोरी, नींद नहीं आने जैसे लक्षण परिलक्षित हो रहे हैं। इसके अलावा पिछले कुछ दिनों में स्वस्थ हो चुके कोरोना के मरीजों में म्यूकरमाइकोसिस (ब्लैक फंगस) के प्रकरण भी राज्य में मिल रहे हैं। इन्हीं परिस्थितियों को दृष्टिगत करते हुए कोविड-19 से ठीक हुए मरीजों के नियमित फाॅलोअप लेने और इन लक्षणों के उपचार के लिए प्रत्येक जिला अस्पताल में पोस्ट कोविड ओपीडी प्रारम्भ करने के निर्देश प्रमुख सचिव स्वास्थ्य ने दिए थे। उन्होंने बताया कि राज्य शासन के निर्देश के परिपालन में जिला अस्पताल में पोस्ट कोविड ओपीडी के तहत मेडिसिन, नेत्र और ईएनटी विशेषज्ञों के साथ फिजियोथेरेपिस्ट की सेवाएं सुनिश्चित की गई हैं। पोस्ट कोविड ओपीडी में मेडिसिन विशेषज्ञ डाॅ. एस. वानखड़े एवं डाॅ. आभा हिशीकर, नेत्र विशेषज्ञ डाॅ. जे.एस. खालसा, मानसिक स्वास्थ्य डाॅ. रचना पदमवार, नाक-कान-गला (ईएनटी) विशेषज्ञ डाॅ. यू.एल. कौशिक, फिजियोथेरेपिस्ट डाॅ. मेघराज साहू, व अन्य विशेषज्ञ के तौर पर शिशुरोग विशेषज्ञ डाॅ. बी.के. साहू, स्त्री रोग विशेषज्ञ डाॅ. टीकम ध्रुव की ड्यूटी लगाई गई है। साथ ही इससे संबंधित हेल्प डेस्क में श्री भागेश्वर लोधी की तैनाती की गई है। उपरोक्त विषय विशेषज्ञ अधिकारी एवं कर्मचारी डाॅ. विजय फूलमाली जिला सर्विलेंस अधिकारी/जिला नोडल अधिकारी कोविड-19 के मार्गदर्शन में मरीजों के स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं के निराकरण का उपचार करेंगे।