अपहरण के बाद नाबालिग से दुष्कर्म, पुलिस ने आरोपी को भेजा रिमांड पर  

102

नगरी| सिहावा थाना अंतर्गत एक नाबालिग युवती का अपहरण कर डेढ़ माह तक जबरदस्ती अपने साथ रखकर दैहिक शोषण करने वाले आरोपी को गिरफ्तार करने में सिहावा पुलिस को सफलता मिली है। सिहावा पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार सिहावा थाना अंतर्गत ग्राम देऊरपारा निवासी नरेश तिवारी पिता कमलेश तिवारी उम्र 19 वर्ष क्षेत्र की एक नाबालिग बालिका को 4 अक्टूबर को बहला फुसलाकर भगा कर ले गया था। जिसकी रिपोर्ट परिजनों द्वारा दर्ज कराई गई थी। पुलिस अधीक्षक बीपी राजभानु के निर्देशन व एसडीओपी नीतीश ठाकुर के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी विनीत लकड़ा के नेतृत्व में थाने के स्टाफ द्वारा लगातार पतासाजी की जाती रही।

सूचना के आधार पर आरोपी कांकेर जिले के भानुप्रतापपुर थाना अंतर्गत ग्राम नारायणपुर में छिपा मिला जहाँ उसने नाबालिग युवती को अपहृत कर रखा था। पुलिस ने आरोपी के चंगुल से नाबालिग युवती को छुड़ाकर 21 नवम्बर को थाना सिहावा लाया| युवती को जबरदस्ती बहला-फुसलाकर अपहरण करने व जबरदस्ती शारीरिक शोषण करने के जुर्म में धारा भादवि 363,366,376 व पॉक्सो एक्ट 6 के तहत कार्यवाही कर आरोपी को रिमांड पर जेल भेज दिया। सिहावा पुलिस ने नक्सल प्रभावित क्षेत्र में जाकर आरोपी को दबोचने में सफलता प्राप्त की थी। आरोपी को गिरफ्तार करने में एएसआई राधेश्याम बंजारे, महिला आरक्षक हेमलता मरकाम, आर प्रदीपदेव, प्रमोद गहड़े, सहायक रक्षक वीरेंद्र ध्रुव आदि का योगदान रहा|