सोशल मीडिया पर अश्लील फोटो व वीडियो अपलोड किया आरोपी गिरफ्तार

284

सोशल मीडिया पर अश्लील फोटो व वीडियो अपलोड करने वाले आरोपी को दमोह मध्य प्रदेश से किया गिरफ्तार टेक्स्ट मैसेज से अश्लील गाली गलौज एवं जान से मारने की दी धमकी

नगरी पुलिस की कार्यवाही

धमतरी | प्राप्त जानकारी के अनुसार  11जनवरी  को प्रार्थिया थाना नगरी आकर लिखित रिपोर्ट दर्ज कराई कि मोबाइल नंबर धारक 797444 3101, 8269439954, 9399879013 के धारक द्वारा रॉन्ग नंबर के जरिए दोस्ती कर अपने प्रेम जाल में फंसाकर उसे बहला-फुसलाकर उकसाते हुए उसका अश्लील वीडियो सोशल मीडिया व्हाट्सएप के जरिए अन्य ग्रुप में वायरल किया तथा व्हाट्सएप में टेक्स्ट मैसेज के माध्यम से उसे अश्लील गाली-गलौज कर जान से मारने की धमकी दिया। उक्त रिपोर्ट पर अज्ञात आरोपी मोबाइल नंबर धारक 7974443101, 8269439954, 9399879013 के विरुद्ध थाना नगरी में धारा 294, 506बी, 509 भादवी एवं 66ए, 66ई 67 आईटी एक्ट के तहत अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

महिलाओं से संबंधित आपराधिक मामले तथा सोशल मीडिया पर अश्लील और आपत्तिजनक फोटो, वीडियो पोस्ट एवं टिप्पणी करने के मामले को गंभीरता से लेते हुए पुलिस अधीक्षक धमतरी बी.पी. राजभानू ने थाना प्रभारी नगरी विनय कुमार पम्मार को आवश्यक दिशा निर्देश देते हुए आरोपी की पतासाजी कर जल्द गिरफ्तार करने के निर्देश दिए। मामले की विवेचना क्रम में पुलिस अनुविभागीय अधिकारी नगरी  नितीश ठाकुर के सुपरविजन में नई तकनीक की मदद से साक्ष्य एकत्रित करने पर आरोपी दीगर प्रांत मध्यप्रदेश के दमोह का निवासी होना ज्ञात हुआ।

पुलिस अधीक्षक ने आरोपी की पता तलाश हेतु पुलिस टीम गठित कर दीगर प्रांत दमोह मध्यप्रदेश भेजा। साक्ष्य के आधार पर पुलिस टीम ने अज्ञात आरोपी की पता तलाश करते हुए उसके सकुनत में दबिश दी। जिस पर आरोपी भगवान दास रैकवार उर्फ अरमान उर्फ भग्गू पिता प्रेमशंकर रैकवार उम्र 26 वर्ष साकिन सिविल लाइन वार्ड क्रमांक 1 दमोह शोभा नगर महाराणा प्रताप स्कूल के पीछे थाना कोतवाली दमोह (मध्यप्रदेश) को हिरासत में लेकर पूछताछ किया। आरोपी ने पूछताछ में अपना गुनाह कबूल किया, जिसके कब्जे से घटना में प्रयुक्त मोबाइल सेट व सिम मौके पर बरामद कर जप्त किया गया। आरोपी के मेमोरेंडम कथन, अपराध स्वीकारोक्ति एवं उपलब्ध साक्ष्यों के आधार पर वैधानिक कार्यवाही करते हुए विधिवत थाना नगरी लाया गया, जिसे न्यायिक रिमांड हेतु माननीय न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत किया गया है।

इस कार्यवाही में थाना प्रभारी नगरी विनय कुमार पम्मार, आरक्षक आनंद कटकवार एवं शंकर दयाल त्रिपाठी की सराहनीय भूमिका रही।