सोंढुर जलाशय का नाम दिवंगत आदिवासी नेता माधव सिह ध्रुव के नाम पर करने की माँग

93

धमतरी। दिवंगत आदिवासी नेता और मध्यप्रदेश छतीसगढ़ के भंडारण मन्त्री रहे माधव सिंह ध्रुव के परिजन और समर्थको ने अभनपुर के वरिष्ठ विधायक और पूर्व मन्त्री धनेंद्र साहू के नेतृत्व में शुक्रवार को मुख्यमंत्री भूपेश मेघेल से मुलाकात कर ज्ञापन सौंपा। इसमें सोंढुर जलाशय का नाम दिवंगत कद्दावर आदिवासी नेता माधव सिह ध्रुव के नाम पर करने की माँग की। इस पर मुख्यमंत्री ने तुरंत कार्यवाही करते हुए कार्यवाही के लिए सामान्य प्रशासन विभाग को भेज दिया है। उल्लेखनीय है दिव्यांग आदिवासी नेता माधव सिह ध्रुव ने ही 1977 मे बतौर संसदीय सचिव सोंढुर जलाशय की नींव रखी थी और उसके निर्माण के लिए अथक प्रयास किए थे और वर्तमान मे जो नहर बनी है उसको भी स्वर्गीय ध्रुव के शब्द मे ही उसका निर्माण हुआ था।

स्व.ध्रुव की इच्छा अनुरूप नगरी मे ट्रेजरी कार्यालय और सिहावा मे बैंक ऑफ बड़ौदा की स्थापना करने की मांग पंकज माधव सिह ध्रुव ने रखी, जिस पर मुख्यमंत्री ने उचित कार्यवाही करने का भरोसा दिलाया है। दिव्य आदिवासी नेता माधव सिह ध्रुव को याद करते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल बहुत भावुक भी हो गए थे। उन्होंने माधवसिंह ध्रुव के साथ बिताए अपने पल को याद किया, उन्होंने कहा की वे और माधव भैया छतीसगढ़ एक्सप्रेस में एक साथ भोपाल जाते थे। विधानसभा मे भी उनकी विशिष्ट शैली थी। इसके कायल उनके धुर विरोध भी थे। मुलाकात मेवे स्व। ध्रुव के छोटे बेटे पन्ना ध्रुव, वरिष्ठ कॉंग्रेसी कार्यकर्ता राम सिह पटेल, मेटस्वर साहू, करण चंद्राकर, राव ठाकुर, दुर्गेश कश्यप, मो.इस्माइल मेमन, गोपी लंपोराया, मुकेश कश्यप, निश्चल लाहौरिया और उनके सैकडों समर्थक मुख्यमंत्री आवास में पहुंचे। उन्होंने कहा कि वे और माधव भैया छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस में एक साथ भोपाल जाते थे। विधानसभा मे भी उनकी विशिष्ट शैली थी। इसके कायल उनके धुर विरोध भी थे। मुलाकात मेवे स्व। ध्रुव के छोटे बेटे पन्ना ध्रुव, वरिष्ठ कॉंग्रेसी कार्यकर्ता राम सिह पटेल, मेटस्वर साहू, करण चंद्राकर, राव ठाकुर, दुर्गेश कश्यप, मो.इस्माइल मेमन, गोपी लंपोराया, मुकेश कश्यप, निश्चल लाहौरिया और उनके सैकडों समर्थक मुख्यमंत्री आवास में पहुंचे। उन्होंने कहा कि वे और माधव भैया छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस में एक साथ भोपाल जाते थे। विधानसभा मे भी उनकी विशिष्ट शैली थी। इसके कायल उनके धुर विरोध भी थे। मुलाकात मेवे स्व। ध्रुव के छोटे बेटे पन्ना ध्रुव, वरिष्ठ कॉंग्रेसी कार्यकर्ता राम सिह पटेल, मेटस्वर साहू, करण चंद्राकर, राव ठाकुर, दुर्गेश कश्यप, मो.इस्माइल मेमन, गोपी लंपोराया, मुकेश कश्यप, निश्चल लाहौरिया और उनके सैकडों समर्थक मुख्यमंत्री आवास में पहुंचे।