शौक ने बनाया चोर, चोरी की मोटरसाइकिल 24 घंटे के भीतर बरामद

633

धमतरी | 13 सितम्बर को योगेश चालकी पिता किशोर कुमार चालकी शाखा प्रबंधक भारत फाइनेंस इंक्लूजन लिमिटेड कंपनी धमतरी ने थाना सिटी कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज कराई कि  12 सितम्बर की रात्रि करीबन 7:30 बजे  अपनी  मोटरसाइकिल यामाहा R15 क्रमांक सीजी 24 L 2643 को मॉडल स्कूल के पास ऑफिस के सामने खड़ी कर अंदर गया तथा कुछ देर बाद वापस आकर देखा तो उसकी मोटरसाइकिल नहीं  थी | वाहन की कीमत लगभग 67000 रुपए है | शिकायत पर पुलिस ने आरोपी के विरुद्ध धारा 379 भादवि के तहत अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

पुलिस अधीक्षक बी.पी. राजभानु को  इसकी जानकारी  होने पर चोरी गई मोटरसाइकिल एवं अज्ञात आरोपी की जल्द से जल्द पता तलाश कर वैधानिक कार्यवाही करने थाना प्रभारी सिटी कोतवाली को निर्देश दिए। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्रीमती मनीषा ठाकुर रावटे एवं उप पुलिस अधीक्षक मुख्यालय अरुण जोशी के दिशा-निर्देश में थाना प्रभारी सिटी कोतवाली भावेश गौतम ने  थाना स्तर पर टीम गठित कर पतासाजी में जुटे थे | इसी दौरान मुखबिर से सूचना मिली कि एक अपचारी बालक रेडीस-ब्लैक कलर की यामाहा मोटरसाइकिल R15 क्रमांक सीजी 24 L 2643 को पैदल खींचते हुए ले जा रहा है | उसके घर में दबिश दी गई तोचोरी की मोटरसाइकिल वहां रखी मिली| अपचारी बालक से पूछताछ करने पर उसने बाइक का शौक होने से उक्त मोटरसाइकिल को चोरी करना स्वीकार किया| उसके कब्जे से चोरी की मोटरसाइकिल को बरामद कर न्यायिक रिमांड हेतु माननीय न्यायालय के समक्ष पेश किया गया है। थाना प्रभारी सिटी कोतवाली भावेश गौतम के नेतृत्व में उनकी टीम ने 24 घंटे के भीतर चोरी गई मोटरसाइकिल यामाहा को बरामद करने में सफलता  पाई है |