शहर में कोविड मरीजों की संख्या को देखते छात्रावासों व निजी स्कूलों का किया जाएगा अधिग्रहण कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी ने शहर के छात्रावासों का किया निरीक्षण

55

शहर में कोविड मरीजों की संख्या को देखते छात्रावासों व निजी स्कूलों का किया जाएगा अधिग्रहण कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी ने शहर के छात्रावासों का किया निरीक्षण
धमतरी| वैश्विक महामारी कोविड-19 के मरीजों की गांवों के साथ-साथ शहरी क्षेत्रों में लगातार बढ़ती संख्या को देखते हुए कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री जयप्रकाश मौर्य ने आज दोपहर रूद्री स्थित पाॅलीटेक्निक सहित शहरी के विभिन्न छात्रावासों का दौरा कर वहां मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध कराने के निर्देश एसडीएम तथा आयुक्त को दिए। कोविड-19 के धनात्मक मरीजों को आइसोलेट करने के उद्देश्य से कलेक्टर ने आज सुबह रूद्री स्थित पाॅलीटेक्निक का दौरा कर वहां की स्थिति का जायजा लिया तथा आने वाले दिनों में आइसोलेशन सेंटर के लिए जरूरी सुविधाएं विकसित करने के निर्देश दिए।

इसके बाद लाइवलीहुड काॅलेज, शासकीय श्रवण-बाधितार्थ विद्यालय, हटकेशर वार्ड स्थित पोस्ट मैट्रिक आदिवासी छात्रावास का दौरा कर कोविड केयर सेंटर व आइसोलेशन सेंटर के तौर पर सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए निर्देशित किया। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में कोविड के मरीजों की तादाद बढ़ने से इंकार नहीं किया जा सकता, इसे देखते हुए जिला प्रशासन को अभी से तैयारियां शुरू करनी होगी, ताकि भविष्य में किसी प्रकार की अव्यवस्था या परेशानियों का सामना करना ना पड़े। अगर आगे भी मरीजों की संख्या इसी क्रम में बढ़ती रही हो छात्रावासों के अलावा निजी स्कूलों को भी आइसोलेशन सेंटर बनाया जा सकता है। कलेक्टर ने नगर के विभिन्न समाज के प्रतिनिधियों से बातचीत कर सामुदायिक एवं सामाजिक भवन लेने के संबंध में भी आयुक्त नगर निगम एवं एसडीएम धमतरी को निर्देशित किया। इस अवसर पर एसडीएम धमतरी श्री चंद्रकांत कौशिक, निगम कमिश्नर श्री मनीष मिश्रा, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. डी.के. तुरे सहित संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।