विकास खंड नगरी के 28 केन्द्रों में 121 व्यक्ति क्वारंटाइन सेण्टर में व 39 होम आइसोलेशन में

490

नगरी | कोरोना महामारी के दौरान अन्य राज्यो व जिलों से घर लौटने वाले प्रवासी मजदूरो के लिए कलेक्टर रजत बंसल के आदेशानुसार विकासखण्ड नगरी के 102 ग्राम पंचायतों में104 तथा नगर पंचायत में 5 कुल मिलाकर 109 कोरेन्टीन सेंटर बनाया गया है।जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी नम्रता गांधी के निर्देश पर सभी केंद्रों के लिए प्रभारी अधिकारीयों की नियुक्ति एसडीएम सुनील शर्मा द्वारा किया गया है।वर्तमान में अन्य राज्यों व जिलों से आये 121 लोगों को 28 कोरेन्टीन सेंटर में व 39 को होम आइसोलेशन में रखा गया है।मुख्य कार्यपालन अधिकारी पी आर साहू ने बताया कि

कोरेन्टीन सेंटरों में भोजन सहित अन्य समस्त व्यवस्थाएं ग्राम पंचायतों द्वारा की जा रही है।जिला प्रशासन के कड़े निर्देश पर किसी भी व्यक्ति को उनके घर से खाने पीने के सामान लाने की अनुमति नही दी गई है।केंद्रों में रखे तथा घरों में आइसोलेट किये गए व्यक्तियों का गांव में घूमना फिरना भी प्रतिबंधित किया गया है।यदि किसी व्यक्ति द्वारा निर्देशों का उल्लंघन किया जाता है तो संबंधित के खिलाफ धारा 188 के तहत पुलिस थाने में एफआईआर दर्ज कराने के निर्देश सरपंच व सचिवों को दिया गया है।सीईओ पी आर साहू द्वारा बताया गया की लिखमा, सियारीनाला,केरेगांव, बनरोद ,झुंझराकसा, आमगांव, जैतपुरी,भोथापारा,भीतर रास,कोलियारी, मल्हारी,उमरगांव,गट्टासिल्ली,नवागांव (सा)आदि के केंद्रों में ठहराए गए लोगों की व्यवस्था पंचायतों द्वारा की जा रही है।इन केंद्रों की मॉनिटरिंग हेतु जिला कलेक्टर द्वारा सेक्टर अधिकारियों की भी नियुक्ति की गई है।एसडीएम शर्मा व एसडीओपी नितीन  ठाकुर के मार्गदर्शन में सम्बंधित थाना प्रभारियों द्वारा भी इन केंद्रों में होम आइसोलेशन रखे व्यक्तियों की सतत निगरानी की जा रही है