लॉकडाउन का नहीं हो रहा ठीक से पालन , अब सख्ती के मूड में शासन प्रशासन : बेवजह सड़कों पर घुमते नजर आ रहे लोगो पर कार्यवाही

561

राजेश रायचुरा\आशीष मिन्नी

धमतरी। देश अभी बेहद संवेदनशील दौर से गुजर रहा है, कोरोना वायरस की महामारी लोगो को अपनी चपेट में न ले इसके लिए शासन द्वारा कड़े निर्णय लिए जा रहे, लॉकडाउन तक कर दिया गया है, पर धमतरी में देखा जा रहा कि लॉकडाउन के बाद भी कई लोग बेवजह घर से बाहर निकल रहे, एक तरह से कहा जाए तो लॉकडाउन को मजाक बना दिया गया है, अब ऐसे लोगो के खिलाफ प्रशासन सख्ती बरतने के मूड में है। विदित हो कि कोरोना वायरस का संक्रमण संपर्क में आने से फैलता है, इसलिए लॉकडाउन किया गया है, ताकि शहर में किसी भी कारण से भीड़ एकत्रित ना हो और लोग एक दूसरे के संपर्क में ना आए, घर पर ही रहे जिससे कोरोना वायरस फैलने का खतरा ना रहे।

पर जिस कोरोना वायरस ने चीन और इटली समेत कई देशों में तबाही मचाकर रख दिया उसकी गंभीरता शायद कुछ लोगों को अब भी समझ नहीं आ रही है, इसलिए प्रशासन के आदेश की धज्जियां उड़ाते हुए लोग घरों से बाहर निकल रहे है। लॉकडाउन के पहले दिन देखा गया की शहर में जरूरी सेवाओं को छोड़कर बाकी दुकाने तो बंद हो गई थी लेकिन सड़कों पर आवाजाही खूब नजर आ रही थी, लोग घर पर रहने की बजाए मूड फ्रेश करने के नाम पर शहर में घूमने निकल गए थे हालांकि जब प्रशासन ने देखा कि लॉकडाउन का लोग गंभीरता के साथ पालन नहीं कर रहे हैं तो दोपहर के बाद प्रशासन को अपने तेवर दिखाने पड़े, पुलिस ने लोगों को खदेड़ना शुरू किया, बेवजह घूमने वालों की बाइक जब्ती की तब जाकर सड़क पर आवाजाही कुछ कम हुई, लेकिन जिस मकसद के साथ प्रशासन ने लॉकडाउन किया वह मकसद अभी भी पूरी तरह से सफल होता नहीं दिख रहा है, इसका कारण लोगों के द्वारा लॉकडाउन को

हल्के में लिया जाना है। शहर में यह नजारा आम है कि लोग घर पर बैठने की बजाय घर से बाहर निकलकर झुंड बना कर बैठे रहे तो कोई घूमने निकल रहा। लोगो की लोगों की इस मनमानी को देखते हुए अब प्रशासन और भी ज्यादा सख्ती करने के मूड में है। अधिकारियों की मानें तो अब ना सिर्फ बेवजह घूमने वालों को खदेड़ा जाएगा यही नही बेवजह घुमने वालो पर कानूनी कार्रवाई भी की जा सकती है।अगर एक-दो लोगों पर भी पुलिस ने कानूनी कार्रवाई की तो बाकी लोगों को खुद ही सबक मिलेगा और लॉकडाउन का पालन करते हुए घर पर ही बैठेंगे, जिससे कि कोरोना वायरस के संक्रमण फैलने का खतरा नहीं रहेगा। वहीं यह भी चर्चा है कि आदेश में कुछ परिवर्तन किया जा सकता है।

चूंकि जरूरी सेवाओं की दुकानों को अभी दिनभर खुला रखा जा रहा है, ऐसे में लोग किराना सामान, सब्जी आदि लेने का बहाना कर घर से निकल रहे हैं, ऐसे लोगों को कोई बहाना ना मिले इसके लिए जरूरी सेवाओं को खोलने और बंद करने को लेकर टाइम निर्धारित किया जा सकता है। या फिर एक दिन जरूरी सेवाओं की दुकान खुली रख दूसरे दिन सभी दुकान बंद और तीसरे दिन फिर खुली ऐसा निर्णय लिया जा सकता है। इधर समाजसेवी तथा राजनीति से जुड़े लोग जो कोरोना संक्रमण फैलने से उत्पन्न हो सकने वाली स्थिति की गंभीरता को समझ रहे हैं उनके द्वारा लोगों से लगातार अपील की जा रही है कि इस खतरनाक वायरस को रोकने के लिए प्रशासन का पूरा सहयोग करें और घर पर ही रहे। खैर जिन लोगो पर अपील का असर नहीं हो रहा उन पर प्रशासन की सख्ती पूरी कारगर होने की उम्मीद है, लोग घर पर ही रहेंगे तो कोरोना से पूरा धमतरी महफूज रहेगा।

लोगो को जागरूक करने व लॉक डाउन का पालन करवाने जुटे है एसडीएम , एएसपी ,निगम आयुक्त

कोरोना से निपटने पुलिस व् प्रशासन कर रहा हर संभव प्रयास

कोरोना वायरस के दहशत की बीच लोगों को समझाइश देने तथा जागरूक करने एसडीएम मनीष मिश्रा व् एएसपी मनीषा ठाकुर निगम आयुक्त आशीष टिकरिया पुलिस व् प्रशासनिक अमले के साथ ग्राउंड लेवल पर कार्य कर रहे है. सोमवार को भी अपनी टीम के साथ शहर के मुख्य चौकचौराहो में मुस्तैदी के साथ डटकर उन्होंने लोगो को समझाइश दी. उनके साथ राजस्व एवं पुलिस के अन्य आला अधिकारी भी डटे हुए है.

गौरतलब है कि कोरोना वायरस से बचाव के लिये शासन प्रशासन ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है, हरएक अधिकारी और कर्मचारी अपने कर्तव्यों का निष्ठापूर्वक पालन कर लोगो को जागरूक करने में जुटे हुएहै, ताकि वैश्विक महामारी बन चुके कोरोना वायरस को फैलने से रोका जा सके, धमतरी एसडीएम मनीष मिश्रा व् एएसपी मनीषा ठाकुर निगम आयुक्त आशीष टिकरिहा भी लगातार कोरोना के खिलाफ जंग में अपनी सक्रियता दिखाते हुए लोगों को लगातार जागरूक कर रहे है, एसडीएम श्री मिश्रा ने गंगरेल स्थित आदिशक्ति मां अंगारमोती मंदिर एवं धमतरी की आराध्य देवी मां विंध्यवासिनी मंदिर के समितियों की बैठक कर आवश्यक दिशा निर्देश दिये, इसके बाद मंदिर समितियों के नवरात्रि पर्व में मनोकामना ज्योति कलश प्रज्वलित नहीं करने का आयोजन नहीं करने सहित कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए है, धार्मिक संस्थानों से सराहनीय सहयोग मिलने के बाद एसडीएम ने अब सड़क पर उतरकर मोर्चा सम्भाल लिया है, शासन द्वारा 31 मार्च तक जनता कर्फ्यू को जारी रखने और प्रशासन द्वारा धारा
144(1) लागू किये जाने के बाद मेडिसिन, सब्जी, किराना, पेट्रोल डीजल सहित अन्य आवश्यक वस्तुओं को छोड़कर बाकी सभी दुकानों के खोले जाने पर रोक लगा दिया गया है.

वहीं सड़को पर बेवजह घूमने वालों को भी रोके जाने का निर्देश है, इस निर्देश के परिपालन में एसडीएम मनीष मिश्रा एएसपी मनीषा ठाकुर निगम आयुक्त आशीष टिकरिहा, तहसीलदार ज्योति सितारे सीओ जिला पंचायत नम्रता गाँधी  अन्य अधिकारियों के साथ मिलकर शहर के कई स्थानों पर कार्यवाई की

 हम समाज के लोगो से जनता से अलग अलग माध्यम से अपील कर रहे है की वो लोग अपने घरो में रहे अनावश्यक बाहर ना निकले अभी की स्तिथि में भी देखा जा रहा है की लोग बाहर घूम रहे है हम इन लोगो से फिर अपील कर रहे है की वो बाहर ना निकले और आज के बाद से अगर कोई घरो से अनावश्यक रूप से बाहर निकलता है तो 100 रूपये का अर्थ दंड करेंगे और अनावश्यक रूप से खुली दुकानों पर भी कार्यवाही की जायेगी और इसके पहेले भी दुकानों में कार्यवाही की गई है |______ एसडीएम मनीष मिश्रा,धमतरी