मोदी सरकार के नये कृषि बिल से किसान, मजदूर का शोषण और कारपोरेट जगत को फायदा होगा

243

धमतरी | अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी नई दिल्ली के निर्देशानुसार एवं छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के आह्वान पर जिला मुख्यालय जिला कांग्रेस कमेटी धमतरी द्वारा केंद्र में बैठी मोदी सरकार द्वारा किसान विरोधी बिल अध्यादेश के विरोध में वर्चुअल किसान सम्मेलन का कांग्रेस भवन धमतरी में आयोजित हुआ। जिसमें छत्तीसगढ़ कांग्रेस के मुख्यालय राजीव भवन से प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रभारी पीएल पुनिया, छत्तीसगढ़ प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष मोहन मरकाम के नेतृत्व में केंद्र सरकार के किसान विरोधी बिल के विरोध में समस्त छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस के ब्लाक मुख्यालय में वर्चुअल किसान सम्मेलन का आयोजन किया गया| वर्चुअल किसान सम्मेलन से पहले कांग्रेस भवन में जिला अध्यक्ष शरद लोहाना सहित उपस्थित कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के छायाचित्र पर माल्यार्पण कर वर्चुअल किसान सम्मेलन का शुभारंभ किया गया। क्षेत्र के किसान वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के माध्यम से सम्मिलित होकर किसान हित में इस अध्यादेश को वापस लेने के लिए आवाज बुलंद की। इस अवसर पर छत्तीसगढ़ प्रदेश के मुखिया भूपेश बघेल ने इस बिल को छत्तीसगढ़ में लागू नहीं करने की बात कही|  इसे पूरे देश के किसान के लिए अहितकर बताया और साथ ही छत्तीसगढ़ विधानसभा में कृषि के लिए किसानों के हित में नया कानून बनाने की बात कही। प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया ने भी इस किसान विरोधी बिल को नरेंद्र मोदी सरकार की एक तानाशाही करार देते हुए शीघ्र ही इस बिल को किसानों के हित में वापस लेने की बात कही। मोदी सरकार के नये कृषि बिल से किसान, मजदूर का शोषण और कारपोरेट जगत को फायदा होगा | प्रदेश प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने किसान के हित में राज्यपाल को ज्ञापन सौंपने के पश्चात भी अगर यह बिल वापस न हो तो प्रदेश के किसानों के लिए छत्तीसगढ़ से लेकर दिल्ली तक की लड़ाई लड़ने की बात कही। छत्तीसगढ़ के कृषि मंत्री रविंद्र चौबे ने इस बिल की तुलना ब्रिटिश शासनकाल से की, जिसमें कानून हमेशा किसानों, गरीबों मजदूरों के शोषण के लिए बनाया  जाता था | आज पूरे देश में वही तानाशाही और अंग्रेजी हुकूमत की तरह यह बिल पास किया गया है। प्रदेश के समस्त मंत्री ने इस काले कानून के विरोध में अपने विचार रखें।
कार्यक्रम का संचालन जिला पंचायत उपाध्यक्ष निशू चंद्राकर एवं आभार जिलाध्यक्ष शरद लोहाना के द्वारा किया गया | इस अवसर पर जिला अध्यक्ष शरद लोहाना, पूर्व जिला अध्यक्ष मोहन लालवानी, महापौर विजय देवांगन, जिलापंचायत उपाध्यक्ष नीशु चन्द्राकर, जनपद अध्यक्ष गुंजा साहू, ब्लॉक अध्यक्ष अमरदीप साहू, नरेश जसूजा, योगेश लाल, प्रदेश प्रवक्ता कृष्णा मरकाम, विजय प्रकाश जैन, पूर्व जनपद अध्यक्ष घमेश्वरी साहू, सोहद्रा साहू, जि.प. सभापति गोविंद साहू, जनपद सदस्य मनीषा साहू, सरिता यादव, रोशनी पवार, अनुपमा साहू, सरपंच संघ अध्यक्ष राजेश चन्द्राकर, मुरारीलाल साहू, योगेश बाबर, धनीराम साहू, सेवक राम तारक, गौरीशंकर पांडेय, ममता शर्मा, नीलू पवार, लुकेश्वरी साहू, देवेन्द्र जैन, अरुण चौधरी, हरमिंदर छबड़ा, देवेन्द्र अजमानी, घनश्याम साहू, परमानंद आडिल, संतोष हिरवानी, मनोज साहू, तनवीर कुरैशी, पुष्पा साहू,अजय राम सिन्हा, पुनीत राम साहू, लीलाराम साहू, विक्रांत पवार, प्रकाश पवार, विक्रांत शर्मा, संदीप ध्रुव, गणेश राम साहू, भुनेश्वर साहू, बशौह राम साहू, आत्माराम साहू, मोहन राम साहू, भुवन साहू, अलख साहू, घनश्याम साहू, अर्जुन ओझा, जय प्रकाश जैन,आकाश गोलछा, भागी निषाद, गौतम वाधवानी, तोमेश साहू, तोगु गुरूपंच, संकेत गुप्ता, तरुण रॉय, आशीष बंगानी, सूर्यकांत साहू, युवराज शर्मा, अम्बर चन्द्राकर, श्रीकांत तिवारी, युगल साहू, मोहन जांगड़े, कोमल प्रजापति, लक्ष्मी कांत साहू, आजुराम, गजेंद्र कुम्भकार, व्यासनारायण, पेखन लाल साहू, पवन कुमार, नोहर साहू, वसीम खिलची, आत्मा साहू, आजु राम साहू, राजेन्द्र भरद्वाज, पवन कुमार, बिसेलाल साहू, पूरन लाल साहू, रूपेश साहू, भोलाराम देवांगन, गंगाधर साहू, गाँधी साहू, बाल मुकुंद, भागीराम देवांगन, राजेन्द्र यदु, राजकुमार साहू, सोमनाथ निर्मलकर, कमल निषाद, दिनेश सिन्हा, सुरेन्द्र सिन्हा, भरत लाल साहू, ओम प्रकाश साहू, जीवधन साहू, पंचराम साहू, भूपत साहू, रेनुकान्त यादव, किसन साहू, गौतम सिन्हा, श्रीराम केले, मोनिका नेताम, खिलेंद्र साहू, मायाराम, संतोष हिरवानी, महानंद धीवर, गेंदलाल साहू, कार्तिक राम सिन्हा, गोपाल राम साहू, शोभाराम सिन्हा, सेवकराम सिन्हा, हेमलाल सतनामी, राजा राम सिन्हा सहित बड़ी संख्या में कांग्रेसजन उपस्थित रहे|