मरीजों के अलावा शहर व सार्वजनिक क्षेत्र की भी चिंता करते थे डॉक्टर ठाकुर :  राजेंद्र शर्मा

386

धमतरी|  स्व. डाँ. आर एस ठाकुर ओजस्वी नर्सिंग होम का संचालन करते हुए धमतरी व कांकेर क्षेत्र नही बल्कि आसपास के जिलो से आनेवाले मरीजों को अपने बेहतर चिकित्सकीय सहायता के माध्यम से सेवा देते रहे ।उनका कोरोना संक्रमण से देहवसान होना चिकित्सा जगत के समर्पित व्यक्तित्व का अवसान तथा सार्वजनिक क्षेत्र के परदर्शी व नेक सलाहकार का चला जाना है |वार्ड पार्षद तथा नगर निगम के पूर्व सभापति राजेंद्र शर्मा ने कहा है कि स्वः डाँ. ठाकुर के आकस्मिक  निधन की  भरपाई  करना संभव नहीं  है |

उन्होंने एक सर्जन के रूप में अपनी पहचान बनाई थी | वे मरीजों के अलावा शहर व सार्वजनिक क्षेत्र की चिंता भी करते थे| कोरोना काल में भी सेवा का सिलसिला जारी रखा था | कोविड सेन्टर के रूप में अपने अस्पताल के यूनिट को देने के लिए हामी भरी | नि: स्वार्थ सेवाभाव के लिए आमजनता व क्षेत्रवासी हमेशा उनके प्रति कृतघ्नता ज्ञापित करते  रहेंगे| श्री शर्मा ने उनके निधन पर श्रद्धा-सुमन अर्पित किये |