पत्रकार से मारपीट, लोकतंत्र का काला अध्याय है -रँजना साहू

424

धमतरी |  स्वतंत्रता के बाद से लेकर आज तक लोकतंत्र के चतुर्थ स्तंभ के सशक्त प्रहरी पत्रकारों की भूमिका समाज व राष्ट्र के लिए महत्वपूर्ण रही है, किंतु वर्तमान दौर में कांकेर में पत्रकार के साथ हुए मारपीट, लोकतंत्र के लिए अशुभ संकेत होते हुए काला धब्बा है। उक्त बातें क्षेत्र के विधायक रँजना डीपेन्द्र साहू द्वारा बीते दिनों कांकेर के पत्रकार के साथ हुई मारपीट की निंदा करते हुए कही है। उन्होंने आगे कहा है कि पत्रकार ही समाज को जागृत करता है, तथा विभिन्न समाचारों से आम जनता को अवगत कराता है। उनकी स्वतंत्रता पर यदि कुठाराघात किया जाए तो समाज का आम व्यक्ति अपने आप को सुरक्षित कैसे महसूस करेगा, प्रदेश के प्रशासनिक मुखिया तथा सरकार से कठोर से कठोर कार्यवाही करने की मांग हमलावरों के ऊपर करने की श्रीमती साहू ने की है, ताकि समाज में ऐसे विघ्नसंतोषी लोग समाज के प्रबुद्ध लोगों के ऊपर कायराना हमला न कर सके और राज्य में अमन चैन शांति का वातावरण चारों तरफ निर्मित हो सके।