पंचायत मंत्री ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से समीक्षा बैठक ली

469

धमतरी । कोरोना महामारी से निपटने व मनरेगा के तहत चल रहे विकास कार्यो का एवम मनरेगा ते तहत मजदूरो को ज्यादा से ज्यादा कैसे काम दिया जाए? स्वास्थ एवं पंचायत मंत्री ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए ली समीक्षा बैठक,जिला पंचायत के अधिकारी व जनप्रतिनिधी हुए शामिल ।

छत्तीसगढ़ शासन के केबिनेट मंत्री टी.एस.सिंहदेव ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से धमतरी जिला पंचायत के जनप्रतिनिधियों एवं अधिकारियो से समीक्षा बैठक लिया। इस अवसर जिला पंचायत अध्यक्ष क्रांति सोनवानी , उपाध्यक्ष निशु चंद्रकार , जिला पंचायत सीईओ नम्रता गांधी, जिला पंचायत सदस्य तारणी चंद्राकर ,मीना बंजारे , मनोज साक्षी, कविता बाबर , सुश्री कान्ती कंवर, दमयन्तीन साहू, खूब लाल ध्रुव एवं अधिकारी कर्मचारी उपस्थित रहे। केबिनेट मंत्री श्री सिंहदेव ने समीक्षा बैठक में धमतरी जिले में कोरोना कोविड 19 के तहत जानकारी लेते हुए नागरिकों को लॉक डाउन का पालन कराने एवं इस विपत्ति से निपटने आवश्यक दिशा निर्देश दिया गया।
जिस पर जिला पंचायत उपाध्यक्ष निशु चंद्राकर ने

सर्वप्रथम छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल एवं स्वास्थ्य मंत्री टी एस.सिंहदेव,जिला प्रशासन, व स्वास्थ विभाग के अधिकारी- कर्मचारी तथा पुलिस प्रशासन के प्रति आभार व्यक्त कर धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा कि इनके कुशल नेतृत्व में आज छत्तीसगढ़ में सभी जिला कोरोना से पूरी तरह से सुरक्षित है,और धमतरी ग्रीन जोन में है।
वही निशु चंद्राकर ने स्वास्थ मंत्री को अवगत कराते हुए कहा कि ग्रामीण क्षेत्रो में बरसात के मौसम में नालियां पूरी तरह कचरा से जाम होने जाने के कारण पानी भर जाता है जिससे अनेक बीमारीयो का सामना ग्रामीणों को करना पड़ता है और जिस तरह कोरोना वायरस संक्रमण से लोग भयभीत है उसी तरह अन्य संक्रमण से जानमाल का नुकसान ना हो यह भय लोगो को सताने लगी है।इसलिए नालियों की सफाई का काम मनरेगा में जोड़े जाने की बात रखी साथ ही फसल कटाई के बाद बहुत से किसानो के द्वारा पैरा गौठान में दान देना चाहते है लेकिन पर्याप्त साधन नही होने के कारण पैरा गोठान तक नही पहुच पा रहे इसलिए पैरा को गोठान तक पहुचाने का काम भी मनरेगा से जोड़ा जाने के लिए विशेष आग्रह किया, ताकि पैरा खराब न हो और मवेशियों को पर्याप्त चारा मिल सके। इससे ग्रामीणों को रोजगार भी प्राप्त हो जाएगा।निशु चंद्राकर ने पंचायत मंत्री से पूछा कि राज्य शासन द्वारा मई माह में प्रत्येक शानिवार और रविवार को सम्पूर्ण लोकडाउन का आदेश जारी किया गया है इस दौरान मनरेगा अंतर्गत रोजगार कार्य भी क्या बंद रहेगा ? जिस पर मंत्री जी ने इस्पष्ठ कहा की मनरेगा का कार्य लॉक डाउन के दौरान चालू रहेगा।इसके अलावा क्षेत्रीय समस्याओं व विभिन्न विकास कार्य की गतिविधियों की जानकारी दी।
मंत्री जी ने तेंदूपत्ता खरीदी से लेकर हितग्राहियों को मिलने वाली सभी प्रकार के पेंशन की भी जानकारी लेते हुए समय पर भुगतान कराने दिशा निर्देश दिया गया। वही जिले के सभी स्वस्थ कर्मचारियों, निर्वाचित जनप्रतिनिधियों की कार्यशैली पर पीठ भी थपथपाई।
वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के अंत मे मंत्री जी ने लॉक डाउन में अपनी निष्ठापूर्वक ड्यूटी निभा रहे जिला प्रशासन के आलाअधिकारी एवं कर्मचारियों का हौसला बुलंद करते हुए उनका आभार व्यक्त किया जिन्होंने अपनी जान की बाजी लगाकर कोरोना जैसे गंभीर संक्रमण से लड़कर आम जनता की रक्षा में लगे हुए है।