धान खरीदी नवंबर से प्रांरभ करने विधायक रंजना ने मुख्यमंत्री को लिखा पत्र

225

धमतरी | प्रदेश की भूपेश बघेल सरकार ने धान की खरीदी विभिन्न समितियों के माध्यम से  1 दिसंबर से करने की बात कही है | यह किसानों के हित में नही है |विधायक रँजना डिपेन्द्र साहू ने धान खरीदी  1 नवंबर या 15 नवंबर से किए जाने की मांग की है | विधायक ने कहा है कि वर्तमान में किसानों की फसल पककर तैयार है| अक्टूबर के प्रथम सप्ताह से कटाई प्रारंभ हो जावेगी| ऐसे में लगभग 2 माह बाद धान की खरीदी करना किसानों को आर्थिक चोट करने जैसा है। उन्होंने कहा है कि उपरोक्त अवधि में धान खेतों से घर में लाने तथा घर से फिर से सोसाइटी ले जाने में परिवहन चार्ज दुगुना लगता है, तथा धान भी सुख जाने से वजन कम आता है| ऐसे में किसानों को अपनी उपज के लिए दोहरी हानि उठाना पडती है। नवंबर में ही धान खरीदी किया जाना किसान हित में है | उन्होंने आगे कहा कि प्रदेश की सरकार किसान हितैषी बनने का कोरा दिखावा करती है, और जब उनके हित की बात आती है तो किसी न किसी रूप में उन्हें आर्थिक क्षति पहुंचाई जाती है, चाहे वह मामला बोनस का हो। किसानों की आवश्यकता के समय में अभी तक तीन किस्तों की राशि प्राप्त ना होना भी किसान हित के लिए कुठाराघात है। विधायक ने कहा है कि वे स्वयं कृषक परिवार की बहू है| उन्होंने खेत में मेहनत करने वाले किसानों के दर्द को  करीब से महसूस किया किया है। किसानों की परेशानी को देखते हुई प्रदेश सरकार एक नवंबर से धान की खरीदी करें|  विधायक ने किसान हित में 1 नवम्बर से धान खरीदी प्रारंभ करने मुख्यमंत्री को पत्र लिखा है |