धान खरीदी केन्द्रों में अव्यवस्था देख विधायक रंजना ने जताई नाराजगी

79

धमतरी | राज्य सरकार द्वारा विभिन्न समितियों के माध्यम से 1 दिसंबर से धान खरीदी की शुरुआत की गई है लेकिन शुरूआत से ही खरीदी सीमा के निर्धारण, टोकन व्यवस्था, बारदाना की कमी सहित अन्य समस्याओं से किसानों को दो-चार होना पड़ रहा है। प्रथम दिवस भी टोकन हेतु खरीदी केंद्रों में किसानों की लंबी कतार दिखी| कोरोनावायरस प्रोटोकॉल के मापदंडो का उल्लंघन करते हुए संक्रमण के खतरे भी दिखे।  खरीदी केंद्र प्राथमिक कृषि साख सहकारी समिति कण्डेल में व्याप्त अव्यवस्थाओं से विधायक रँजना साहू को अवगत कराए जाने पर वे स्वयं केंद्र में पहुंचकर व्यवस्था दुरुस्त करने संबंधी निर्देश देते हुए व्यवस्था के लिए नाराजगी व्यक्त की |

उन्होंने कहा कि कोविड-19 के संक्रमण के इस चुनौतीपूर्ण समय में देश के अन्नदाता किसान के स्वास्थ्य की सुरक्षा करना व्यवस्थित खरीदी के साथ ही सोसाइटी के कर्मचारी, अधिकारी का नैतिक धर्म है| जिसका पालन वह ईमानदारी से करें। विधायक श्रीमती साहू ने आगे कहा कि किसानों क हक के लिए वह किसी भी स्तर पर जाकर लड़ने के लिए मानसिक रूप से तैयार है। उनके  साथ जनपद उपाध्यक्ष अवनेंद्र साहू, फलेश साहू उपस्थित रहे। कण्डेल, पीपरछेडी, गागरा एवं विभिन्न गांवों के कृषक कृपा राम साहू, घनश्याम साहू, दिनेश साहू, पवन साहू, तात्या राम, कोशलेत साहू, अश्वंत साहू, गंगाराम साहू, भोलाराम साहू, मुनेस साहू, शिवनारायण साहू, रामेश्वर मरकाम, भागवत राम, रामजी नेताम, प्रीतम कुमार सेन, सनत कुमार गौड़, मंगल राम, जितेंद्र साहू, राजेश कुमार साहू, मनराखन ध्रुव, कमलेश्वर ध्रुव, चोवा राम साहू, घनश्याम साहू, ओमप्रकाश सिंहा, योगेंद्र कुमार साहू, रतिराम साहू, पवन कुमार, रोहित साहू ने भी अपनी पीड़ा विधायक को बताई। धान खरीदी केंद्र में काम कर रहे  हमालों ने धान की आवक की कमी के कारण रोजगार न मिलने की समस्याएं विधायक के सामने रखी | मौके पर होमेंद्र कुमार निर्मलकर, पुरुषोत्तम, कृष्णा कुमार, नरेंद्र कुमार, सोमानी साहू, शीतल साहू, विष्णुराम, लीलाधर कुमार, दीनानाथ साहू, पालक राम, तेजराम थे| 

tushar