धरती पर सृजन व निर्माण के प्रतिरूप है,लोहार समाज -रँजना साहू

38

समाजिक भवन की उपयोग को दे सकारात्मक दिशा-गुंजा साहू

धमतरी |  सृष्टि में निर्माण के देवता के रूप में पूजे जाने वाले भगवान विश्वकर्मा के वंशज लोहार समाज हम सबके बीच सृजन व निर्माण के प्रतीक के रूप में पूजे जाते हैं, ग्रामीण परिवेश में पुरातन काल में पूरी अर्थव्यवस्था ही लोहार समाज द्वारा निर्मित हथियारों एवं औजार पर ही आधारित थी, विकास में भले ही आधुनिक सोपान में अनेक अविष्कार किए हैं, लेकिन लोहार समाज आज भी उन्हें चुनौती दे रहा है,

उक्त बातें विधायक रँजना डीपेन्द्र साहू द्वारा रांवा परिक्षेत्र विश्वकर्मा लोहार समाज के सामुदायिक भवन का निर्माण ग्राम रांवा में होना है, उसका भूमि पूजन करते हुए मुख्य अतिथि के रूप में व्यक्त की। वही अध्यक्षता कर रहे जनपद पंचायत के अध्यक्ष गुंजा साहू ने कहा कि सामुदायिक भवन सेवा का केंद्र बिंदु बन कर सामूहिकता के साथ सकारात्मक कार्यों को संपन्न करने के लिए सद उपयोगिता में आए यही इस निर्मित होने वाले भवन की सच्ची सार्थकता होगी। उपस्थित जनों को विशिष्ट अतिथि के रूप में जनपद पंचायत के उपाध्यक्ष अवनेंद्र साहु, जिला पंचायत सदस्य दमयंती साहु भाजपा मंडल अध्यक्ष मुरारी यदु, जनपद सदस्य मानिक लाल साहू ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर विश्वकर्मा समाज प्रदेश अध्यक्ष लोचन विश्वकर्मा, महिला प्रकोष्ठ मनसुखा विश्वकर्मा, महामंत्री अमन राव, मण्डल उपाध्यक्ष गौकरण साहू, फलेश साहू, ज्ञानिक राम साहू, दया राम सिंहा, नरसिंग विश्वकर्मा, प्रेम विश्वकर्मा, भानू विश्वकर्मा, राजाराम रायपुरिया, कुर्रा सरपंच खम्हन लाल साहू, घासीराम साहू, जीवराज साहू, ओंकार प्रसाद, सुखदेव साहू, कोमल निर्मलकर, कुलेश साहू, उपस्थित रहे। आभार सरपंच गोपालन पटेल ने व्यक्त किया।

tushar