तेंदुआ की खाल की तस्करी करते हुए आरोपी चढ़ा बोरई पुलिस के हत्थे

149

वन्य प्राणी तेंदुआ की खाल का सौदा करने ले जा रहा था आरोपी मारीगांव व मैनपुर के तिराहा पास बोरई पुलिस ने घेराबंदी कर आरोपी को धर दबोचा आरोपी के विरुद्ध वन्य प्राणी संरक्षण अधिनियम व लोक संपत्ति नुकसान निवारण अधिनियम के तहत की गई कार्यवाही, बोरई पुलिस की त्वरित कार्यवाही

धमतरी | दिनांक 14 जून  के तड़के विश्वस्त सूत्रों से थाना प्रभारी बोरई को सूचना मिली कि टीवीएस वाहन में एक व्यक्ति अवैध रूप से वन्य प्राणी की खाल का सौदा करने की फिराक में हैं तथा मारीगांव (उड़ीसा बॉर्डर) से मैनपुर की ओर आ रहा है। उक्त सूचना मिलने पर वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराया। जिनके दिशा निर्देश तथा पुलिस अनुविभागीय अधिकारी नगरी श्री नीतिश ठाकुर के नेतृत्व में थाना प्रभारी बोरई सहायक उपनिरीक्षक देवनाथ सिन्हा तत्काल अपनी टीम के साथ मुखबिर सूचना की तस्दीक कर वैधानिक कार्यवाही करने रवाना हुए।

उक्त टीम के द्वारा सुरक्षा प्रबंध के साथ मुखबिर के बताए अनुसार मारीगांव से मैनपुर की ओर तिराहा में घेराबंदी की गई। संदेही टीवीएस वाहन चालक पुलिस को देखकर तेज रफ्तार से चलाकर भागने की कोशिश किया जिसे घेराबंदी कर पकड़ा गया। नाम पता पूछने पर अपना नाम विद्याभूषण गोंड़ बताया। जिसके वाहन में सामने रखी सफेद हल्की मटमैली रंग की खाद बोरी की विधिवत तलाशी ली गई। खाद बोरी में तेंदुआ की खाल जैसा खाल जिसकी लंबाई सिर से पुंछ तक 106 इंच तथा चौड़ाई 23 इंच कीमती करीबन ₹5,50,000/- बरामद हुआ। जिसके संबंध में पूछताछ करने पर संतुष्टिप्रद जवाब नहीं मिला। मौके में वैधानिक कार्यवाही करते हुए आरोपी द्वारा प्रयुक्त टीवीएस NTORQ वाहन क्रमांक CG 05 AK 7782 को जप्त कर आरोपी विद्याभूषण गोंड़ को विधिवत गिरफ्तार किया गया तथा उसके विरुद्ध थाना बोरई में वन्य प्राणी संरक्षण अधिनियम 1972 की धारा 9, 39(1)(2), 51, 52 तथा लोक संपत्ति का नुकसान निवारण अधिनियम 1984 की धारा 3 के तहत अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। गिरफ्तार आरोपी को न्यायिक रिमांड हेतु माननीय न्यायालय के समक्ष पेश किया गया है।

आरोपी के कब्जे से बरामद माल- वन्य प्राणी तेंदुआ की खाल जैसा खाल कीमती करीबन ₹5,50,000/- एवं 01 टीवीएस NTORQ वाहन क्रमांक CG 05 AK 7782

गिरफ्तार आरोपी का नाम- विद्याभूषण गोंड पिता सोहराय गोंड उम्र 24 वर्ष साकिन देवभारन थाना रायघर जिला नबरंगपुर (उड़ीसा)

उक्त संपूर्ण कार्यवाही पुलिस अनुविभागीय अधिकारी नगरी श्री नीतिश ठाकुर के नेतृत्व में थाना बोरई के सहायक उपनिरीक्षक देवनाथ सेना एवं उनकी टीम का सराहनीय योगदान रहा।