डोड़की के आत्महत्या प्रकरण का खुलासा 3 आरोपी गिरफ्तार

458

थाना अर्जुनी पुलिस की कार्यवाही

धमतरी । थाना अर्जुनी क्षेत्र अंतर्गत ग्राम शंकरदाह निवासी सूचक प्रेमलाल साहू पिता स्वर्गीय नारायण साहू के द्वारा दिनांक 26 अप्रैल को थाना अर्जुनी आकर रिपोर्ट दर्ज कराया कि रात्रि में उसका छोटा भाई अनूप साहू ग्राम डोड़की के नवनिर्मित पानी टंकी में फांसी लगाकर आत्महत्या कर लिया है । प्रकरण की गंभीरता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक महोदय बी .पी. राजभानु के द्वारा थाना प्रभारी अर्जुनी को मामले की सुक्ष्मता पूर्वक जांच करते हुए आत्महत्या के कारणों का पता लगाकर विधिवत कार्यवाही करने निर्देशित किया गया।

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्रीमती मनीषा ठाकुर रावटे एवं उप पुलिस अधीक्षक श्री अरुण जोशी के मार्गदर्शन में परिस्थितिजन्य साक्ष्यों को एकत्रित करते हुए बारीकी से सभी तथ्यों पर मर्ग की जांच की जा रही थी। मर्ग जांच के दौरान सूचक एवं गवाहों के कथन पर ज्ञात हुआ कि ग्राम शंकरदाह निवासी लिकेश साहू की पत्नी ने मृतक अनूप साहू के ऊपर छेड़छाड़ का झूठा आरोप लगाया था, जिस पर आरोपी लिकेश साहू, उसका भाई जितेंद्र साहू एवं मां परदेसनीन बाई साहू तीनों मिलकर मृतक अनूप साहू के साथ मारपीट कर उसे बदनाम करते हुए आत्महत्या करने के लिए दुष्प्रेरित करने से अनूप साहू ने बदनामी के डर से व्यथित होकर आत्महत्या करने से पूर्व अपने दोस्त को ऑडियो मैसेज भेजा एवं ग्राम डोड़की में नवनिर्मित पानी टंकी में दिनांक 26 अप्रैल की रात्रि में फांसी लगाकर आत्महत्या कर लिया।

मर्ग जांच के दौरान गवाहों के कथन, उपलब्ध साक्ष्य एवं मृतक अनूप साहू के द्वारा आत्महत्या करने से पूर्व अपने दोस्त को भेजे गए ऑडियो मैसेज के आधार पर पाया गया कि आरोपी लिकेश साहू, जितेंद्र साहू एवं परदेसनीन बाई साहू तीनों मिलकर मृतक अनूप साहू को आत्महत्या के लिए दुष्प्रेरित किये, जिस पर दिनांक 06/06/2020 को थाना अर्जुनी में आरोपी-(1) लिकेश साहू पिता रामगुलाल साहू उम्र 30 वर्ष, (2) जितेंद्र साहू पिता रामगुलाल साहू उम्र 27 वर्ष एवं (3) परदेसनीन बाई साहू पति रामगुलाल साहू उम्र 47 वर्ष सभी निवासी ग्राम शंकरदाह थाना अर्जुनी जिला धमतरी के विरुद्ध अपराध क्रमांक 240/20 धारा 306, 34 भादवि पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। वरिष्ठ अधिकारियों के दिशा निर्देश एवं थाना प्रभारी अर्जुनी उमेंद टंडन के नेतृत्व में टीम गठित कर तीनों आरोपियों को गिरफ्तार करने रवाना किया गया। अर्जुनी पुलिस टीम के द्वारा आरोपियों के सकूनत की घेराबंदी करते हुए दबिश देने पर तीनों उपस्थित मिले, जिन्हें विधिवत गिरफ्तार कर ज्युडिशिल रिमांड हेतु माननीय न्यायालय के समक्ष पेश कर जेल दाखिल किया गया है।