टेस्ट रिपोर्ट के विलंम्ब से संक्रमण व बढ रहा है मृत्युदर का आकंडा-राजेंद्र शर्मा

44

मौत के बाद मोबाइल मे आ रहा है पाँजीटीव का मैसेज

धमतरी | काफी प्रयास के बाद भी कोरोना संक्रमण की चैन तोड़ने में कामयाबी हासिल नहीं हो पा रही है और ना ही मृत्यु दर का आंकड़ा भी नीचे लाए जाने में हम सफल हो रहे हैं इसका कारण कहीं ना कहीं लक्षणात्मक एवं धनात्मक मरीजों की हो रही टेस्ट की रिपोर्ट में विलंब आने को माना जा रहा है क्योंकि जो व्यक्ति संक्रमित पॉजिटिव रिपोर्ट आता है उसके बहुत सारे संपर्क टेस्ट व रिपोर्ट आने के अंतराल में हो जाए रहते हैं और संक्रमण का फैलाव हो जाता है विशेषकर यहां बात ग्रामीण क्षेत्रों में संक्रमण बढ़ने का महत्वपूर्ण कारण माना जा रहा है

तथा प्रशासन के द्वारा मितानिन ओं के समक्ष कोरोनावायरस दवाई किट उपलब्ध कराएं जाने के बाद भी उसे लेने में लापरवाही भी मौत का एक कारण बन जा रही है आज ऐसे ही घटना समीपस्थ ग्राम लोहारसिगं के 35 वर्षीय एक युवक जिसके परिवार में उसके अलावा पत्नी व दो बच्चे हैं के साथ घटी और वह सुबह 4:00 बजे जब शासकीय अस्पताल पहुंचा तो उसकी मृत्यु हो गई थी तथा उस व्यक्ति की अंतिम क्रिया कर्म हो जाने के बाद मोबाइल पर कोरोनावायरस क्योर आने की रिपोर्ट का मैसेज प्राप्त हुआ लेकिन समय निकल चुका ।उनके परिजनों के द्वारा सूचित किए जाने पर नगर निगम के पूर्व सभापति व अधिवक्ता राजेंद्र शर्मा भी वहां पहुंचे थे उन्होंने कहा है कि विपरीत परिस्थितियों में स्वास्थ्य सेवा से जुड़े हुए लोग अपना कर्तव्य निभा रहे हैं किंतु किसी न किसी रूप में यदि टेस्टिंग का रिपोर्ट अविलंब आजा वे तू संक्रमण की चैन को तोड़ने तथा मृत्यु दर को नीचे लाने में कामयाबी हासिल किया जा सकता है प्रदेश सरकार को इस व्यवस्थागत खामी को दूर करने के लिए सार्थक कदम उठाने की आवश्यकता है इस संबंध में उन्होंने स्वास्थ्य मंत्री को पत्र भी लिखा है। साथ ही श्री शर्मा ने लक्ष्मण वाले लोगों को प्राथमिक उपचार के लिए मितानिनों के पास उपलब्ध दवाओं की किट को उपयोगिता मे लाने का आग्रह भी किया है।