जीवन में गुरूजनों का बड़ा महत्व, पी.जी.काॅलेज ने मनाया शिक्षक दिवस 

506

धमतरी | बी.सी.एस.शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय धमतरी में प्राचार्य डाॅ. श्रीदेवी चौबे के निर्देशन में 5 सितम्बर को भारत के पूर्व राष्ट्रपति डाॅ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जन्म दिवस के अवसर पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए शिक्षक दिवस कार्यक्रम का आयोजन किया गया। प्राचार्य श्रीदेवी चौबे , प्रो. पी.सी. चौधरी सहित समस्त प्राध्यापकों ने डाॅ.सर्वपल्ली राधाकृष्णन के प्रति असीम प्यार एवं सम्मान व्यक्त करते हुए उनके योगदान को स्मरण किया।


महाविद्यालय के प्राचार्य डाॅ. श्रीदेवी चौबे ने शिक्षक दिवस मनाने के उद्देश्यों पर प्रकाश डालते हुए कहा कि प्रतिवर्ष 5 सितम्बर को डाॅ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जन्म दिवस को पूरे भारत वर्ष में शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाता है। इस दिन छात्र-छात्राएं अपने भविष्य निर्माता शिक्षकों के प्रति अपने प्यार एवं सम्मान को व्यक्त करते हैं। हमें जन्म माता-पिता से मिला है लेकिन हमे जीवन में जीने की शिक्षा अपनी मंजिल को प्राप्त करने में सबसे बड़ा योगदान गुरू का होता है। डाॅ. श्रीदेवी  चौबे ने कहा कि सभी के जीवन में गुरूजनों का सबसे बड़ा योगदान हैं। अंत में सभी प्राध्यापकों ने यह संकल्प लिया कि जिस तरह हमारे गुरूजनों ने हमारे कैरियर को बनाने में अपना अमूल्य योगदान दिया उसी तरह हम सभी अपने जीवनकाल में  समस्त छात्र-छात्राओं को उनके कैरियर चयन करने एवं सही मार्गदर्शन कर उनका भविष्य सवारने में अपना शत्-प्रतिशत योगदान देंगे । इस अवसर पर महाविद्यालय के NSS.NCC खेलकूद, यूथ रेडक्रास, छात्रसंघ सहित अन्य छात्र-छात्राओं ने भी अपने गुरूजनों के प्रति सम्मान प्रकट किया। कार्यक्रम में पूर्व प्राचार्य डाॅ. चन्द्रशेखर  चौबे, प्रो. पी.सी.चैधरी, डाॅ. अनिता राजपुरिया, डाॅ. ए.एस.साहू, डाॅ. मनदीप खालसा, डाॅ. प्रभा वेरूलकर, डाॅ. चंद्रिका साहू, प्रो. पंकज जैन, प्रो. दुर्गेश प्रसाद सहित समस्त प्राध्यापकगण एवं समस्त स्टाॅफ उपस्थित थे |