जिला स्तरीय छत्तीसगढ़िया ओलम्पिक संपन्न

80

19 सौ से अधिक खिलाड़ियों ने दिखाया दमखम

अतिथियों ने किया विजयी खिलाड़ियों को शील्ड व मैडल देकर पुरस्कृत

धमतरी | जिला प्रशासन धमतरी द्वारा आयोजित जिला स्तरीय छत्तीसगढ़िया ओलम्पिक का समापन आज स्थानीय डॉ. शोभाराम देवांगन शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय के खेल मैदान में हुआ। समापन कार्यक्रम में सिहावा विधायक और मध्य क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण डॉ.लक्ष्मी ध्रुव ने इतने बड़े आयोजन को सफलतापूर्वक संपन्न कराने के लिए संबंधित अधिकारियों को बधाई दी। उन्होंने कहा की प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रदेश के विलुप्त हो रहे खेलकूद, रीति-रिवाज, भाषा-बोली, त्योहारों आदि को संवारने का काम किया है। कोरोना काल के बाद व्याप्त भय को दूर करने के लिए छत्तीसगढ़िया ओलंपिक, मजदूर दिवस के अवसर पर बासी खाकर मजदूरों का सम्मान करने का भी काम प्रदेश के मुख्यमंत्री ने किया है। डॉ.ध्रुव ने कहा की विश्व पटल पर हमारे प्रदेश का नाम हो यही हमारे मुख्यमंत्री की मंशा है। इस अवसर पर विधायक ने राज्य स्तर पर प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले जिले के खिलाड़ियों को 10 हजार व दुसरा स्थान प्राप्त करने वाले खिलाड़ियों को 5 हजार रुपए प्रदान करने की घोषणा की। इस मौके पर अतिथियों ने जिला स्तरीय खेल प्रतियोगिताओं में विजयी खिलाड़ियों को पुरस्कृत किया और अपनी शुभकामनाएं दी।

कार्यक्रम में दिव्यांगजन कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष मोहन लालवानी, महापौर नगरनिगम धमतरी  विजय देवांगन, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती कांति सोनवानी, उपाध्यक्ष  निशु चंद्राकर सहित अन्य जनप्रतिनिधियों ने संबोधित करते हुए कहा की खेल के माध्यम से मुख्यमंत्री ने परंपरागत खेलों को पुनः सक्रिय कर स्थानीय खेलों को बढ़ावा दिया है। शारीरिक एवं मानसिक विकास में खेल का महत्वपूर्ण स्थान है। हमारे जिले के खिलाड़ी जिला स्तरीय आयोजन में बेहतर प्रदर्शन कर जिले का नाम ऊंचा करें। आप सभी हर स्तर पर मेहनत करें, खेल में हार-जीत लगी रहती है, खिलाड़ी हार से उदास न हो, अपनी कमियों को दूर कर अगले वर्ष फिर से प्रयास करें, सफलता जरूर मिलेगी। जनप्रतिनिधियों ने खिलाड़ियों के उत्साहवर्धन के लिए पुरस्कारों की घोषणा भी की।
कार्यक्रम के शुरूआत में नोडल अधिकारी एवं जिला पंचायत सीईओ श्रीमती रोक्तिमा यादव ने कार्यक्रम की रूपरेखा पर प्रकाश डालते हुए बताया कि छत्तीसगढ़िया ओलंपिक में इस बार 16 खेल विधाओं को शामिल किया गया है। छः चरणों में आयोजित इस प्रतियोगिता में लेवल-01 राजीव युवा मितान क्लब, लेवल- 02 जोन स्तर, लेवल-03 विकासखंड एवं नगरीय क्लस्टर स्तर, लेवल-04 जिला स्तर, लेवल-05 संभाग स्तर पर आयोजित होने के बाद लेवल-06 में राज्य स्तर पर खेल प्रतियोगिताएं आयोजित हो रही है।

 जिले में इस बार छत्तीसगढ़ ओलंपिक की शुरूआत 17 जुलाई से 22 जुलाई तक राजीव युवा मितान क्लब स्तर पर की गयी थी, जिसमें 66 हजार 537 प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया और उनमें से 41 हजार 406 प्रतिभागी विजयी हुए। इसी प्रकार जोन स्तर की शुरूआत 26 जुलाई को हुई जो कि 31 जुलाई तक चली। इसमें कुल 41 हजार 406 प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया और इनमें से 11 हजार 171 प्रतिभागी विजयी हुए। इसी प्रकार जिले में विकासखंड स्तर पर आयोजित छत्तीसगढ़िया ओलंपिक 18 अगस्त से 23 अगस्त तक चला, जिसमें कुल 11 हजार 171 खिलाड़ी प्रतिभागी शामिल हुए और इनमें से 1920 प्रतिभागियों ने जिला स्तर पर आयोजित हाने वाले छत्तीसगढ़िया ओलंपिक में अपनी जगह बनायी है। आज जिला स्तरीय छत्तीसगढ़िया ओलंपिक का आयोजन किया गया। छत्तीसगढ़िया ओलम्पिक में दलीय श्रेणी में गिल्ली डंडा, पिट्टूल, संखली, लंगड़ी दौड़, कबड्डी, खो-खो, रस्साकसी और बांटी (कंचा) जैसी खेल विधाएं शामिल की गई हैं। वहीं एकल श्रेणी की खेल विधा में बिल्लस, फुगड़ी, गेड़ी दौड़, भंवरा, 100 मीटर दौड़, लम्बी कूद, रस्सी कूद एवं कुश्ती शामिल हैं। कार्यक्रम में डिप्टी कलेक्टर श्रीमती उमा राज, जिला शिक्षा अधिकारी श्री बृजेश बाजपेयी सहित अन्य अधिकारी, कर्मचारी और स्कूलों के शिक्षक उपस्थित थे।