घर में होंगे लॉक तो कोरोना होगा डाउन : बेहद जरुरी है लॉक डाउन का पालन

444
(राजेश रायचुरा ) धमतरी | 31 मार्च तक लॉकडाउन का फैसला राज्य सरकार द्वारा किया गया। जिसके तहत यात्री बसे, दुकाने, व व्यापार बंद रखकर सोशल डिस्टेंसिंग   को बढ़ावा देने का प्रयास किया जा रहा है। कल जनता कफ्र्यू के साथ आज भी लॉकडाउन के तहत शहर की दुकाने बंद रही। आवश्यक वस्तुओं की बिक्री की छुट दी गई थी। जिसके तहत मेडिकल, अस्पताले, फल, राशन दुकानें खुली रही। पुलिस व प्रशासनिक अमला द्वारा लगातार शहर भ्रमण कर लोगो से अनावश्यक घर से बाहर न निकलने की अपील की जा रही है। वही पुलिस विभाग के द्वारा लगातार पेट्रोलिंग कर लोगों की समझाइश दी जा रही है गाड़ियां जब्त की जा रही है फिर भी लोग  घूमने से बाज नहीं आ रहे हैं वही  इतवार को निगम की टीम के द्वारा विभिन्न ऑटो स्टॉपेज, रिक्शा स्टैण्ड में भी जाकर इन वाहनों में उक्त दवा का सघन छिड़काव कराया गया। उन्होंने यह भी बताया कि कलेक्टर के निर्देश पर शहर में स्थित विभिन्न सब्जी मण्डियों सहित कई जगहों में भी रात को दवा का छिड़काव कराया गया। जहां पर लोगों की सतत् आवाजाही बनी रहती है।
उल्लेखनीय है कि कोरोना महामारी से बचाव हेतु निगम अमला आयुक्त उपायुक्त के निर्देशानुसार सतत प्रयासरत है। इसी कड़ी में अधिकारियों के निर्देश पर नगर निगम क्षेत्र अंतर्गत समस्त सरकारी एवं गैर सरकारी बिल्डिंग, गार्डन, मंदिर, मस्जिद, चर्च ,चौक -चौराहे ,बस स्टॉप, रेलवे स्टेशन ,कॉन्प्लेक्स, शहर के सारे दुकान, एटीएम, पेट्रोल पंप को सेनीटाइज किया गया, पानी में सोडियम हायपो क्लोराईड मिलाकर 200 लीटर अनुमानित छिड़काव किया गया. वही सोमवार को लोंगो को समझाइश देने के बाद भी लोग शहर में  घूमते नजर आये जबकि पुलिश के जवान उन्हें रोक कर समझाइश देते नजर आये की बिना जरूरी कार्य के घर से बाहर न निकले वही यातायात प्रभारी ने ऑटो में भी चार से अधिक सवारी न बैठाने की हिदायत दी वो भी अगर बहुत जरूरी हो तभी  यदि धमतरी आज एकजुट होकर संकल्प ले ले की कोरोना के जंग से सामूहिक मिलकर लड़ना है तो जिस तरह से अभी धमतरी सुरक्षित है वैसे ही भविष्य में भी सुरक्षित रह सकता है।
कलेक्टर रजत बंसल पुलिस अधीक्षक बीपी राजभानु  ने लोगों से यही कहा है कि वे अनावश्यक घरों से ना निकले सुरक्षित और संयमित रहे ।अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मनीषा ठाकुर ने बताया कि सुबह से ही पेट्रोलिंग पार्टी पुलिस के जवान चौक चौराहों में लगे हुए हैं लोगों को यह बार-बार समझाइश दी जा रही है । ।भविष्य में सख्ती बढ़ाई जा सकती है ।सोमवार को ऐसे कुछ लोगों पर कार्रवाई भी की गई है। लगभग 30 से अधिक  दुपहिया वाहनों को जप्त किया गया है ,आगे और कड़ी कार्यवाही की जा सकती है।
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ डीके तुर्रे ने भी अपील करते हुए कहा है कि कृपया अनावश्यक आमजन चौक चौराहे या शहर का हालचाल देखने घुमने फिरने न निकले  क्योंकि हमारा उद्देश्य है लोगों के बीच दूरी बनाए रखना यदि आमजनता इस बात को भलिभांति समझ ले तो हम सबकी कोशिश और मेहनत सफल होगी और हम विजयी होँगे।
जानकारी नहीं देने पर होगी सीधे एफआईआर
स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार विशेषकर विदेशो से लौटने वाले नागरिकों की जानकारी प्रशासन को देना अनिवार्य किया गया है। यदि ऐसे नागरिकों द्वारा अपनी ट्रेवल हिस्ट्री व आगमन की जानकारी प्रशासन को नहीं दी जायेगी तो सीधे इन पर एफआईआर की जा सकती है। वहीं अन्य प्रदेशो से लौटने वालो में यदि किसी प्रकार के कोरोना वायरस के लक्षण नजर आये उनके द्वारा भी आगमन की जानकारी नहीं दी गई तो उन पर एफआईआर कर कार्रवाई की जा सकती है।
”जिले में 17 नागरिकों को क्वारेंटाइन किया जा रहा है। जबकि 681 नागरिकों को होम आईसोलेशन पर रखा गया है। लगातार इनके  स्वास्थ्य की मानीटरिंग की जा रही है। विदेशो से लौटने वाले नागरिकों द्वारा जानकारी नहीं दिये जाने पर उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज की जायेगी।
डा. डीके तुर्रे
सीएचएमओ, धमतरी