गांधी ने हर परिस्थिति में अहिंसा और सत्य का पालन किया : विजय देवांगन

488

देश को एकजुट करने शास्त्री ने निभाई थी प्रमुख भूमिका  :अनुराग मसीह

महात्मा गांधी एवं लाल बहादुर शास्त्री को जयंती पर किया स्मरण 

धमतरी | राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के जयंती के अवसर पर  नगर निगम सभा हाल में महात्मा गांधी एवं लाल बहादुर शास्त्री के छाया चित्र पर माल्यार्पण कर पुष्पांजलि अर्पित की गई | मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का प्रदेश की जनता के नाम संदेश का वाचन महापौर विजय देवांगन द्वारा किया गया। तत्पश्चात महात्मा गांधी प्रतिमा सेंचुरी गार्डन के पास एवं लाल बहादुर शास्त्री की प्रतिमा घड़ी चौक पर महापौर विजय देवांगन सभापति अनुराग मसीह, पाषर्द जनों एवं एल्डरमेन के द्वारा माल्यार्पण कर श्रद्धा सुमन अर्पित किया गया।

इस अवसर पर महापौर विजय देवांगन ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जीवनी पर प्रकाश डालते हुये कहा कि गांधी ने स्वतंत्रता आंदोलन में सबसे महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी| सत्याग्रह व अहिंसा के सिध्दांतो पर चलकर उन्होंने भारत को आजादी दिलाई । उनके इस सिद्धांतो ने पूरी दुनिया में लोगों को नागरिक अधिकारों एवं स्वतन्त्रता आंदोलन के लिए प्रेरित किया। उन्हें भारत का राष्ट्रपिता भी कहा जाता है। महात्मा गांधी समूचे मानवजाति के लिए मिसाल है। उन्होंने हर परिस्थिति में अहिंसा और सत्य का पालन किया| सभापति अनुराग मसीह ने कहा कि भारत के पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री ने युद्ध के दौरान देश को एकजुट करने के लिए उन्होंने जय जवान जय किसान का नारा दिया। आजादी से पहले उन्होंने स्वंतत्रता आंदोलन मे भी महत्वपूर्ण भूमिका अदा की । उन्होंने बड़ी सादगी और ईमानदारी के साथ अपना जीवन  जीया और सभी देशवासियों के लिए एक प्रेरणा के स्त्रोत  बने|
इस अवसर पर महापौर विजय देवांगन, सभापति अनुराग मसीह, एमआईसी सदस्य राजेश ठाकुर, अवैश हाशमी, राजेश पाण्डेय, पार्षद नीलू पवार, ममता योगेश शर्मा , सविता तोमन कवंर, दीपक सोनकर, एल्डरमेन सूर्याराव पवार अवधेश पाण्डेय, कार्यपालन अभियंता राजेश पदमवार, सहायक अभियंता एसआर सिन्हा, उपअभियंता कामता नागेंद्र, कमलेश ठाकुर, बलवंत राव शिंदे, होरी लाल साहू, भरत साहू, जनार्दन गौतम, रामनारायण, फिरोज खान, संतोष निर्मलकर, जितेंद्र यादव, निकेतन यादव उपस्थित हुए।