गांधीजी सत्य, अहिंसा, सत्याग्रह व शास्त्री जी सादगी, ईमानदारी की मिसाल थे : रंजना  साहू

447

धमतरी| कोरोना संक्रमण के तेजी से बढ़ते दुष्प्रभाव  के कारण विधायक  रंजना  साहू ने समाजिक जागरूकता का संदेश देते हुए अपने कार्यालय में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी तथा हरित क्रांति के जनक पूर्व प्रधानमंत्री लालबहादुर शास्त्री जी की पूजा-अर्चना कर श्रद्धा-सुमन अर्पित किये | देश को आजादी दिलाने वाले स्वतंत्रता आंदोलन के प्रणेता राष्ट्रपिता महात्मा गांधी तथा देश के पूर्व प्रधानमंत्री एवं जय जवान जय किसान का नारा देने वाले सादगी के प्रतीक लाल बहादुर शास्त्री की जयंती पर उन्हें श्रद्धा सुमन अर्पित करते हुए विधायक रंजना डिपेंद्र साहू ने कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने हमें संघर्ष की प्रेरणा देते हुए सत्य, अहिंसा का हथियार प्रदान किया और यही हथियार आगे चलकर गांधी वादी विचारधारा के रूप में लोकतंत्र को मजबूत बनाने के लिए संघर्ष की सीढ़ी बन गई है |

उनकी विचारधारा आने वाली पीढ़ियों का मार्गदर्शन करते रहेगी | विधायक ने देश के पूर्व प्रधानमंत्री लालबहादुर शास्त्री को सादगी का एक उत्कृष्ट उदाहरण बताते हुए कहा कि वह अपने जीवन में सिद्धांतों से कभी समझौता नहीं किए | उन्होंने एक बार जो ठान लिया उसे पूरा करके रहे चाहे रास्ते में कितनी भी चुनौती व परेशानियों का सामना करना पड़ा हो |वे हमेशा मजबूत सिद्धांतों के प्रबल व अटूट वाहक के रूप में याद किए जाते रहेंगे।