कोरोना से दिवंगत पत्रकारों के परिवारों को आर्थिक मदद दिलाने राज्यपाल और मुख्यमंत्री को  पत्र

386

अखिल भारतीय पत्रकार सुरक्षा समिति के राजनांदगांव एवं रायगढ़ के जिला अध्यक्षों एवं कार्यकारिणी सदस्यों ने दी श्रद्धांजलि

राजनांदगाँव| कल पूरे छत्तीसगढ़ मे चौथे स्तंभ कहे जाने वाले पत्रकार जगत के लिए काला दिवस था| निष्पक्ष खबरों को प्रवाहित करने वाले दो पत्रकार हमारे बीच नहीं रहे| राजनांदगांव के वरिष्ठ पत्रकार  दिवंगत पूरन साहू एवं रायगढ़ के दिवंगत शशीकांत शर्मा अपने जीवन के कार्यकाल में अलग-अलग अखबारों में कुशलता पूर्वक कार्य करते रहें | पूरे विश्व मे 2020 कोविड-19 कोरोनावायरस महामारी  एक भयावह रूप ले चुकी है| लाखों की तादात में लोगो को अपने चपेट में ले चुकी है लेकिन इस कोरोनो काल मे जितना कर्तव्य शासन प्रशासन का है उतनी ही अहम भूमिका पत्रकारो की है| इसी भूमिका और अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन करते  हुए  पत्रकार भाइयों ने इस  कोरोना संक्रमण के लॉकडाउन के दरमियान चौथे स्तंभ को धरातल पर मजबूत रखा और सीना ताने खड़े रहे जिसमें इन्हें कोरोना संक्रमण का सामना करना पड़ा और इस बीमारी से लड़ते हुए अपनी जान गंवानी  पड़ी |

अब  इनके ऊपर आश्रित परिवार  के सामने आर्थिक स्थिति की समस्या आ गई है | इस मामले को लेकर अखिल भारतीय पत्रकार सुरक्षा समिति के माध्यम से प्रदेश सचिव प्रशांत ईलमकार ने प्रदेश अध्यक्ष गोविंद शर्मा के मार्गदर्शन में  प्रदेश स्तर के पदाधिकारी एवं जिला अध्यक्षों के समर्थन के बाद पीड़ित परिवारों को राज्य शासन की ओर से तत्काल आर्थिक मदद दिलवाने हेतु छत्तीसगढ़ के महामहिम राज्यपाल एवं मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर निवेदन किया  है  कि जल्द से जल्द इन परिवारों को आर्थिक मदद  दी जाए |  यह जानकारी राजनांदगाँव के  जिला अध्यक्ष मनोज सिंह चन्देल ने दी