कारीपानी के जंगल में नक्सली बैनर पोस्टर मिलने से दहशत , नरेन्द्र मोदी और अमित शाह की निंदा, क्षेत्र में सर्चिंग तेज 

513

धमतरी। नगरी ब्लाक के ग्राम कारीपानी जंगल में 20 सितंबर की रात नक्सली बैनर पोस्टर मिला। जिसे बोरई पुलिस ने जब्त कर दिया है| क्षेत्र में पुलिस सर्चिंग तेज हो गई है। एसपी बीपी राजभानु ने बताया कि बैनर पोस्टर मिलने के बाद क्षेत्र में सर्चिंग बढ़ा दी गई है। उल्लेखनीय है कि मैनपुर नुआपाड़ा डिवीजन कमेटी के कमांडर कार्तिक राम, टिकेश कुमार के साथ ही सत्यम गावड़े की  क्षेत्र में दहशत है। दोपहर बाद इस वनांचल में सन्नाटा पसर जाता है।

गौरतलब है कि 20 दिन पहले ग्राम घोरागांव में पुलिस ने मुठभेड़ में गोबरा दलम के कमांडर रवि उर्फ मलेश उर्फ सन्नू कुंजाम को मुठभेड़ में मार गिराया था। इसके 5 दिन बाद माओवादियों ने नगरी से मैनपुर मार्ग में लीलांज नदी के पास सड़क को ब्रेक कर बैनर पोस्टर फेंका था। महीने भर के अंदर माओवादियों की यह तीसरी घटना है, जिसके बाद से वनांचल में दहशत का माहौल है। 21 से 29 सितंबर तक भाकपा माओवादी पार्टी ने  16वी वर्ष गांठ मनाने का निर्णय लिया है। नक्सलियों ने आरोप  लगाते  हुए कहा कि  देश के सरकारी उपक्रम का निजीकरण  किया जा रहा है | भाकपा ने नरेन्द्र  मोदी और अमित शाह की कड़ी निंदा की।  कोरोना महामारी का इलाज सभी सरकारी अस्पतालों में मुफ्त देने की मांग की है।