कमीशन की राशि डूबने की आशंका के चलते उतार दिया मौत के घाट, आरोपी गिरफ्तार , धारदार हथियार जब्त

320

धमतरी | ग्राम अरकार की शराब दुकान के पास बुधवार को भखारा थाना अंतर्गत ग्राम पचपेड़ी के युवक नीलध्वज साहू की दिनदहाड़े चाकू मारकर हत्या कर दी गई | घटना को अंजाम देने के  बाद हत्यारा वहां से फरार हो गया था|  पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए आरोपी भारत भूषण चंद्राकर 38 वर्ष पिता कोमल सिंह चंद्राकर ग्राम रजोली थाना रनचिरई को चारामा के पास गिरफ्तार कर लिया है | हत्या की यह खबर सोशल मीडिया के माध्यम से पूरे क्षेत्र में फैल गई | सूचना पर भखारा टीआई कोमल सिंह नेताम, कंवर चौकी प्रभारी कैलाश मरई और गुरुर टीआई अरुण नेताम के अलावा आला अधिकारी मौके पर पहुंचे| गुरुर और कंवर पुलिस ने घेराबंदी कर आरोपी को बुधवार रात को ही चारामा जंगल के पास दबोच लिया| आरोपी ने अपना अपराध स्वीकार कर लिया|  मामले का खुलासा करते हुए पुलिस ने बताया कि मृतक नीलध्वज कमीशन पर वाहन खरीदी बिक्री का काम करता था | इसी के तहत वह रजौली के भारतभूषण से संपर्क किया जिससे बातचीत कर भारत भूषण ने अपने हार्वेस्टर को 2 लाख 90 हजार में नीलध्वज के माध्यम से उमरगांव के एक किसान के साथ सौदा किया | इसमें 15000 कमीशन भी शामिल था | इस हेतु 9 अक्टूबर को एग्रीमेंट हुआ और दो लाख अग्रिम राशि भारत को दी गई | इस बीच नीलध्वज ने अपना कमीशन मांगा तो आरोपी ने बचे 90000 में से काटने की बात कही लेकिन भारतभूषण को पैसा डूबने की शंका होने लगी जिसके चलते वह नीलध्वज की हत्या करने की ठान ली |जिसके मुताबिक वह बुधवार को कमीशन की राशि लेने फोन कर बुलाया| नीलध्वज पचपेड़ी से अपने साथी ओंकार साहू के साथ बाइक से अरकार  पहुंचे | शराब दुकान से  कुछ दूर  खपरी- सेमरा  मार्ग में  सड़क किनारे शराब पी | हत्या को अंजाम देने  की नीयत से भारत भूषण ने उसके  साथी को और दारू लेने भेजा | साथी के चले जाने पर भारत भूषण ने अपनी गाड़ी में रखे गन्ना काटने के  धारदार हथियार से  उसकी  हत्या कर दी | पुलिस धारा 302 के तहत आरोपी भरत भूषण को प्रयुक्त लोहे के धारदार हथियार के साथ हिरासत में  लेकर आगे  की  कार्रवाई कर रही है|