अंखण्ड भारत एवं प्रखर राष्टवाद के संवाहक थे डाँ.श्यामा प्रसाद जी-रँजना साहू

106

देश को एकता के सूत्र मे पिरोने एक विधान,एक प्रधान, एक निशान का दिया मंत्र-विजय मोटवानी

धमतरी| भारत का मुकुट कहलाने वाले कश्मीर यदि देश का अभिन्न हिस्सा बना हुआ है तो वह स्वतंत्रता के पश्चात प्रथम सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे तथा जनसंघ के संस्थापक डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी की गौरवशाली देन है, उन्होंने अखंड भारत का सपना देखते हुए प्रखर राष्ट्रवाद के बीज को देश के लिए समर्पित प्रत्येक नागरिकों के हृदय में बोने हेतू जम्मू कश्मीर की यात्रा करते हुए अपने प्राणों की आहुति दे दी थी।

उक्त बातें विधायक श्रीमती रंजना डिपेद्रं साहू ने डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी के जन्म दिवस पर दानीटोला नहरनाका चौक स्थित उनकी आदमकद प्रतिमा मे माल्यार्पण कर उपस्थितजनों के समक्ष कही। भाजपा नगर मंडल के अध्यक्ष विजय साहू ने बताया कि भाजपा ही देश को माता के रूप मे पूजा अर्चना करती है, इसलिए युवा वर्ग भारतमाता के लिए अपने को समर्पित करने पार्टी से जुडकर आगे आकर अपनी जवानी देश व समाज सेवा के नाम करें। वही इस अवसर पर भाजयुमो के जिलाध्यक्ष विजय मोटवानी ने कहा कि पूरे देश को एक समग्र स्वरूप प्रदान करने के लिए डॉक्टर मुखर्जी ने एक विधान ,एक प्रधान, एक निशान का अलख जगाते हुए समग्र भारत की एकता व अखण्डता का बिगुल फूंक दिया और उसी का अनुसरण करते हुए देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने धारा 370 (ख) तथा अनुच्छेद 5 (ए) को समाप्त कर मुखर्जी जी सहित अनेक देशवासियों के सपनों को साकार कर दिए। गौरतलब है कि डाँ मुखर्जी के जन्मदिवस पर युवामोर्चा ने पार्टी के स्वच्छता व वृक्षारोपण को लेकर पार्टी के निर्देशानुसार तथा जिलाध्यक्ष ठाकुर शशि पवार के निर्देश पर वृहद कार्यक्रम चलाया।

उक्त अवसर पर बिथिका विश्वास, विनोद रणसिंह, शिवदत्त उपाध्याय, चेतन हिंदूजा, राजेंद्र शर्मा, प्रियंका सिन्हा, अवनेंद्र साहू, प्रकाश शर्मा, धनीराम सोनकर, श्यामा साहू, दीपक गजेंद्र, अविनाश दुबे, अभिषेक शर्मा, अज्जू देशलहरे, आकाश पांडेय, नील पटेल, अखिलेश सोनकर, राजीव सिन्हा, गोपाल साहू, अमित अग्रवाल, आवेस शाह, दिलीप पटेल, केवल साहू, हेमराज सोनी, गायत्री सोनी उपस्थित रहे।