ʼʼदेश पुकारे तुझे माटी पुकारे ”अंतरराष्ट्रीय दिव्यांग दिवस पर सार्थक स्कूल के बच्चों ने दी ऑनलाइन बेहतर प्रस्तुति

213

धमतरी| अंतरराष्ट्रीय दिव्यांग दिवस के अवसर पर समाज कल्याण विभाग धमतरी द्वारा जिला स्तरीय ऑनलाइन कार्यक्रम का आयोजन किया गया। मानसिक दिव्यांग बच्चों के स्कूल सार्थक के 14 विशेष बच्चों ने उत्साह पूर्वक हिस्सा लिया। विविध वेशभूषा के अंतर्गत रोशन साहू ने डॉक्टर की पोशाक और उपकरण के साथ आकर्षक प्रस्तुति दी।

आकाश आहूजा और विनीत बघेल ने पेंटिंग द्वारा कोविड-19 के चलते सुरक्षा उपायों का संदेश दिया। दीपाली सोनी ने लघु नाटिका द्वारा अधिक से अधिक पेड़ लगाने का संदेश दिया। गीत गायन में एकलव्य पटेल ने ʼʼदेश पुकारे तुझे माटी पुकारे-” और पोषण ध्रुव ने ” सारे जहां से अच्छा–“गीत की प्रस्तुति दी। इस तरह सीमा सिन्हा, वत्सला साहू, संजय सोनवानी ने सुंदर नृत्य से सबका मन मोह लिया। रितु यादव , मनीषा साहू, श्वेता मसीह ने रंगोली के माध्यम से अपनी रंग बिरंगी खुशियां बिखेरी। दीपेश मेश्राम ने सुंदर पेंटिंग कर रंग बिखेरा। आकाश आहुजा और पोषण ध्रुव ने अपने हस्ताक्षर का सुलेख द्वारा प्रदर्शन किया। सार्थक के प्रशिक्षकों ने पालकों के सहयोग से ऑनलाइन कार्यक्रम सफलतापूर्वक सम्पन्न कराया।

संस्था की अध्यक्ष डॉ सरिता दोशी ने अंतर्राष्ट्रीय दिव्यांगजन दिवस के अवसर पर दिव्यांगजनों  को बधाई और शुभकामनाएं प्रेषित करते हुए कहा कि सृष्टिकर्ता के सृजन में कुछ रचनाएँ अनगढ़ सृजित होतीं हैं। वे दिव्यांगजन कहलाते हैं| वे अपनी शारीरिक अथवा मानसिक अक्षमताओं के कारण अक्सर परिवार एवं समाज द्वारा उपेक्षित होते हैं। जबकि इन्हें उचित देखभाल, प्रशिक्षण, शिक्षण और प्रेम व्यवहार द्वारा मिलनसार, आत्मविश्वासी और कुछ स्तर तक आत्मनिर्भर भी बनाया जा सकता है। अतः अपनी सामाजिक जिम्मेदारी मानते हुए हमें दिव्यांगजनों की सेवा करनी चाहिए। सचिव स्नेहा राठौड़ ने विशेष बच्चों के प्रशिक्षकों और पालकों को ऑनलाइन कार्यक्रम में सहयोग के लिए धन्यवाद दिया। कार्यक्रम को सफल बनाने में प्रशिक्षक सुधापुरी गोस्वामी, मैथिली गोड़े, मुकेश चौधरी, स्वीटी सोनी, देविका दीवान का विशेष सहयोग रहा।