सार्थक स्कूल का खुशमिजाज़, प्रतिभाशाली और बहुत समझदार बच्चा संजय सोनवानी का निधन संस्था द्वारा श्रद्धांजलि दी गई

230

सार्थक स्कूल धमतरी के प्रथम प्रवेशी छात्र संजय सोनवानी, 36 वर्ष का निधन हो गया है। उनके परिवार से प्राप्त जानकारी के अनुसार 4 दिन पूर्व संजय को बुखार आया था उसके 2 दिन बाद रविवार को तबीयत बिगड़ने पर उसे जिला चिकित्सालय धमतरी में एडमिट किया गया ।संजय कोरोना पॉजिटिव हो गया था और उसे सांस लेने में तकलीफ होने के बाद वेंटिलेटर पर रखा गया । मंगलवार की शाम संजय ने अंतिम श्वांस लेकर दुनिया से विदाई ले ली। सार्थक स्कूल में प्रशिक्षकों, एवं अध्यक्ष,सचिव द्वारा संजय को श्रद्धांजलि अर्पित की गई।

सार्थक की अध्यक्ष डॉ. सरिता दोशी ने बताया कि, संजय स्कूल का सबसे खुशमिजाज़, प्रतिभाशाली और बहुत समझदार बच्चा था। वह एक बढ़िया डांसर भी था और स्कूल की समस्त गतिविधियों में उत्साहपूर्वक शामिल हुआ करता था।

सार्थक की वरिष्ठ प्रशिक्षिका श्रीमती सुधा पुरी गोस्वामी ने बताया कि, संजय ने सार्थक स्कूल में सबसे पहले प्रवेश लिया था। उसका नाम रजिस्टर में सबसे पहला है । सचिव श्रीमती स्नेहा राठौड़ ने कहा- संजय के आकस्मिक निधन ने सार्थक स्कूल में एक अपूरणीय रिक्तता दे दी है। स्कूल के प्रशिक्षक मैथिली गोड़े, मुकेश चौधरी,स्वीटी सोनी, देविका दीवान सुनैना गोड़े संजय के निधन से व्यथित थे ।उनका प्रिय छात्र संजय, सार्थक की रौनक और गौरव था।

सार्थक संस्था के संरक्षक डॉ. अनिल रावत, डॉ प्रभात गुप्ता, गोपाल शर्मा, डॉ इंदरचंद जैन, एवं संस्थापक अध्यक्ष प्रभा रावत, तथा सलिल श्रीवास्तव, लक्ष्मण हिंदुजा,सुधीर ठाकुर,अशोक खंडेलवाल , जयंती लुंकड़,वंदना मिराणी, हरख जैन, धनराज लुनिया,वर्षा खंडेलवाल, पायल खंडेलवाल, गौरव लोहाना, एम. एम. दास,मोती लुनिया,डॉ वर्षा जैन,प्रीतपाल सिंग छाबड़ा,मदनमोहन खंडेलवाल,विनोद जैन, सुभाष मलिक, रंजना ठाकुर ज्योति पारख, हेमिना फौजदार, नीरज नाहर, सरिता नाहर, कीर्ति गोयल , अनु नंदा,रीना जैन,मनीष नाहर,राहुल दुग्गड़,आकाश गोलछा ने संजय के पिता श्री जे. आर. सोनवानी जी( पूर्व प्रधान पाठक ग्राम छुही) एवं उनके परिवार के प्रति व्हाट्सएप्प में संवेदना प्रेषित की और दिवंगत संजय की आत्मा की शांति एवं सदगति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की।