संजीवनी एक्सप्रेस के ईएमटी और पायलट की ईमानदारी

494

घायल व्यवसायी के 3 लाख रुपए की राशि और मोबाइल लौटाए 

धमतरी | 108 संजीवनी एक्सप्रेस के ईएमटी डायमंड निषाद और पायलट धर्मेंद्र साहू ने सड़क दुर्घटना में घायल व्यवसायी के 3 लाख रुपये की राशि और 2 मोबाइल फ़ोन परिजनों को सौंप कर ईमानदारी और कर्तव्यनिष्ठा की मिसाल कायम की है।


15 अगस्त की एक दिन पूर्व संध्या धमतरी से रायपुर जा रहे 58 वर्षीय नरेंद्र शर्मा गुजरा – कोसमर्रा मार्ग के पास सड़क दुर्घटना में घायल हो गए। घटना की सूचना मिलते ही ईएमटी डायमंड निषाद और पायलट धर्मेंद्र निषाद तुरन्त घटना स्थल पर पहुंचे।जब 108 की टीम घटना स्थल पर पहुंचे तो घायल नरेंद्र शर्मा अचेत अवस्था में थे। घायल व्यक्ति को प्राथमिक उपचार करते हुए जिला अस्पताल धमतरी में लाया गया। इस दौरान नरेंद्र शर्मा के बैग में 3 लाख रुपये और दो मोबाइल रखे हुए थे। जिसे ईएमटी और पायलट ने उनके पुत्र शशांक शर्मा को पुलिस के समक्ष सकुशल वापस लौटाए। ईएमटी और पायलट की कर्तव्यनिष्ठा और ईमानदारी की घायल के परिजनों के साथ सभी ने प्रशंसा की। कोरोना संक्रमण के बीच 108 संजीवनी एक्सप्रेस के कर्मी फ्रंट लाइन वारियर्स के रूप में पूरी निष्ठा और समर्पण भाव से सेवा दे रहे हैं।