राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस का शुभारम्भ, विद्यार्थियों को खिलाई गईं अल्बेंडाजोल की गोलियां

225

धमतरी | स्वास्थ्य विभाग द्वारा राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस कार्यक्रम के अंतर्गत आज शासकीय हाई स्कूल सोरिदभाट में शाला विकास समिति के सहयोग से अल्बेंडाजोल की गोलियां बच्चों को खिलाई गईं। इस अवसर पर नोडल अधिकारी डाॅ. विजय फुलमाली के द्वारा छात्र-छात्राओं को शरीर में कृमि संक्रमण से शरीर पर पड़ने वाले प्रभाव के विषय पर जानकारी देते हुए बताया कि कृमि कुपोषण के मुख्य कारक हैं, शरीर में खून की कमी होने से शरीर कमजोर पड़ जाता है व थकान महसूस होती है और समुचित ढंग से शारीरिक एवं मानसिक विकास नहीं हो पाता।

इसलिए कृमि संक्रमण के बचाव हेतु अल्बेंडाजोल-400 एमजी की एक गोली की खुराक से यह संक्रमण ठीक हो जाता है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. डी.के तुर्रे ने बताया कि इस कार्यक्रम के तहत् जिले में 3 लाख 5 हजार 337 बच्चों को दवाई खिलाने का लक्ष्य रखा गया है। एक साल से दो साल तक के बच्चों को आधी गोली पानी में घोलकर पिलाना है। 2 से 3 साल के बच्चे को एक गोली पानी में घोल कर और 3से 19 साल तक एक गोली चबा-चबा कर खिलाने कहा जाता है।