मनरेगा कार्य में समय पर मजदूरी भुगतान होने से मजदूरों में खुशियां

464

मनरेगा कार्य से हो रही परिसंपत्ति निर्माण

धमतरी|  जिले के 370 ग्राम पंचायत में से 355 ग्राम पंचायत में कलेक्टर  रजत बंसल के मार्गदर्शन एवं मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्रीमती नम्रता गांधी के निर्देशन में महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजनांतर्गत भूमि सुधार कार्य, नया तालाब निर्माण कार्य, तालाब गहरीकरण कार्य, डबरी निर्माण कार्य, मिट्टी सड़क निर्माण कार्य, नाला सफाई कार्य, डब्ल्यू.बी.एम. सड़क निर्माण

कार्य, सामुदायिक डबरी निर्माण कार्य, सामुदायिक पशु आश्रय निर्माण कार्य, सार्वजनिक नाडेप निर्माण कार्य, सार्वजनिक वर्मी कम्पोस्ट निर्माण कार्य, वृक्षारोपण रखरखाव कार्य, नाला में डाइक निर्माण कार्य, पक्की नाली निर्माण कार्य, अजोला टैंक निर्माण कार्य, निजी तालाब निर्माण कार्य, कच्ची नाली निर्माण कार्य इत्यादि 1616 निर्माण कार्य जारी है। लाॅकडाउन से निपटने ग्रामीण मजदूरों के लिए महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजनांतर्गत कार्य सशक्त माध्यम बना। इससे ग्रामीण मजदूर राहत महसूस कर रहे हैं। महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना के तहत 01 लाख 55 हजार 798 पंजीकृत परिवार हैं जिसमें 99 हजार 780 मजदूर मनरेगा के कार्यों में लगे हुए हैं। लाॅकडाउन के दौरान कई मजदूर परिवार आभाव की जिंदगी जी रहे थे। पंचायतों में महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजनांतर्गत कार्य प्रारंभ होने से ग्रामीण मजदूरों को गांव में ही रोजगार मिल रहा है। कार्य के एवज में समय पर मजदूरी भुगतान होने से मजदूरों में खुशियां छायी हुई है।
मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत ने बताया कि-पंचायतों में मनरेगा कार्य खुलने से कार्य मंे तेजी आई है। मांग अनुसार मजदूरों को काम दिया जा रहा है। इन कार्यों में 99 हजार 780 श्रमिक नियोजित हैं। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए डबरी निर्माण, तालाब गहरीकरण, मनरेगा से संबंधित सभी कार्य सुचारू रूप से कराये जा रहे हंै।