भाठागांव स्कूल के शिक्षकों ने जिले के अधिकारियों को राज्यगीत की प्रतियाँ भेंट की 

521

कुरूद |शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय भाठागाँव के व्याख्याता शेखर प्रसाद साव एवं स्पोर्ट्स टीचर हरीश देवांगन  द्वारा  राज्य के प्रति अपने कर्तव्यनिष्ठा की अनूठी मिसाल पेश की जा रही है। उन्होंने एक नई सोच और रचनात्मकता के साथ सरकार द्वारा घोषित एवं मानकीकृत राज्य गीत को इसके रचयिता के नाम, गायन अवधि और अन्य जानकारियों के साथ सुन्दर तरीके से फ्रेमबद्ध कर जिले के प्रमुख अधिकारियों को उनके कार्यालयों तक पहुँच कर सौजन्य भेंट किया जा रहा है। नवंबर 2019 में राज्योत्सव के अवसर पर डाॅ. नरेन्द्र देव वर्मा द्वारा रचित कालजयी गीत ‘अरपा पैरी के धार’ को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के द्वारा छत्तीसगढ़ का राज्य गीत घोषित किया गया था।

अब छत्तीसगढ़ की पहचान बने राज्य गीत को सभी सरकारी कार्यक्रमों, आयोजनों तथा विद्यालयों में गाये जायेंगे। छत्तीसगढ़ की अस्मिता बने राज्य गीत की फ्रेमबद्ध प्रतियाँ  जिलाधीश  जयप्रकाश मौर्य , पुलिस अधीक्षक बी.पी.राजभानू, एस.डी.एम. राजस्व मनीष मिश्रा, जिला शिक्षा अधिकारी डाॅ. रजनी नेल्सन, तहसीलदार ज्योति मसियारे तथा धमतरी विधायक रंजना साहू, महापौर  विजय देवांगन, छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोसिएशन उपाध्यक्ष  देवनाथ साहू, सरपंच भाठागाँव  खेमराज चंद्राकर, प्राचार्य भाठागाँव श्रीमती नीलम साहू को सौंपा गया। शिक्षकद्वय द्वारा किये जा रहे इस रचनात्मक कार्य की सभी अधिकारियों ने प्रशंसा की है। शिक्षकद्वय ने बताया  कि यह कार्य आगे भी जारी रहेगा।