प्रत्येक ग्राम पंचायत में स्थापित होगा कोविड कॉल सेंटर जिला दण्डाधिकारी जे.पी.मौर्य ने जारी किए आदेश

83

धमतरी | जिले के प्रत्येक ग्राम पंचायत में कोविड कॉल सेंटर स्थापित होगा। कोविड कॉल सेंटर के संचालन की जिम्मेदारी ग्राम पंचायत सचिव, सरपंच, पंच एवं जनप्रतिनिधियों की होगी। ग्राम पंचायत स्तर पर कोविड संबंधी निर्देशों एवं नियमों का कड़ाई से पालन कराना इस कॉल सेंटर का उद्देश्य है। कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री जय प्रकाश मौर्य ने शासकीय अमले के कार्यभार को ध्यान में रख निर्देशित किया है कि ग्राम पंचायतों के कोविड कॉल सेंटरों में संबंधित ग्राम पंचायत के ही स्वयं सेवक (वॉलेंटियर्स), स्व सहायता समूह के सक्रिय सदस्य, एनसीसी एवं मेट इत्यादि की ड्यूटी लगाई जाए।

कलेक्टर ने कहा है कि विभिन्न प्रपत्रों में जानकारी ग्राम पंचायत द्वारा नोडल अधिकारी एवं मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायतों को दी जानी है। उन्होंने मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायतों को सुनिश्चित करने कहा है कि यह प्रपत्र सभी ग्राम पंचायतों में पहुंच जाए। गौरतलब है कि प्रपत्र में ग्राम पंचायत स्तर पर होम आइसोलेशन, कोविड संबंधी उचित व्यवहार, मितानिन किट का वितरण, कंटेनमेंट जोन का अनुपालन, आइसोलेशन सेंटर की सुचारू व्यवस्था, क्लस्टर के नोडल अधिकारी एवं मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत को सतत् रिपोर्टिंग करना, टीकाकरण के प्रति जागरूक एवं प्रोत्साहित करना इत्यादि बिन्दु शामिल हैं।