धमतरी के जोगीडीह को राजस्व ग्राम बनाने किया जाएगा जी.पी.एस. सर्वे

85

धमतरी के जोगीडीह को राजस्व ग्राम बनाने किया जाएगा जी.पी.एस. सर्वे
तात्कालिक व्यवस्था के तहत शेष 76 लोगों का प्रकरण बनाकर भू-स्वामी हक का पत्र  देने के कलेक्टर ने दिए निर्देश राजस्व दल गठित कर किया जाएगा 15 दिनों में निदान

धमतरी |  रविशंकर सागर जलाशय परियोजना गंगरेल के प्रभावित, जिन्हें जोगीडीह में विस्थापित किया गया, उनके बीच आज दोपहर 12 बजे कलेक्टर श्री जय प्रकाश मौर्य राजस्व अमले के साथ पहुंचे। उन्होंने ग्रामीणों के बीच पहुंच उनकी समस्या सुनते हुए सबसे पहले अगले 15 दिनों में राजस्व विभाग के अमले से सर्वे कराकर वास्तविक कब्जे के आधार पर शेष बचे 76 लोगों को भी भू-स्वामी हक का पत्र देने के निर्देश अनुविभागीय अधिकारी राजस्व धमतरी को दिए। इसे राजस्व ग्राम के रूप में घोषित किए जाने की लंबे समय से की जा रही मांग के मद्देनजर कलेक्टर ने यहां जल्द जी.पी.एस. सर्वे कराने के लिए आई.आई.टी. रुड़की से पत्र व्यवहार करने के भी निर्देश दिए हैं। ज्ञात हो कि जी.पी.एस. में विस्तृत सर्वे होगा, जिसमें वास्तविक कब्जे के आधार पर नक्शे को चिन्हांकित कर अलग से खसरा नंबर देते हुए ग्रामीणों को भू-स्वामी हक का पत्र जारी किया जाएगा। सर्वे और दावा-आपत्ति मंगाकर निराकरण करने के बाद अभिलेख अधिकार तैयार किया जाएगा और राजपत्र में इसे राजस्व ग्राम के रूप में घोषित किया जाएगा। राजस्व ग्राम बनने से ग्रामीणों को शासकीय योजनाओं का लाभ मिलने में सुविधा होगी।

गौरतलब है कि बागोडार का पारा जोगीडीह 1580.20 एकड़ में बसा है। यहां 110 परिवार बसे हैं और इसकी कुल आबादी 500 है। रविशंकर जलाशय परियोजना गंगरेल के विस्थापित यहां भी बसाए गए थे। उस वक्त जिनकी काश्त भूमि थी, उन्हें पांच एकड़ और जिनका मकान था, उन्हें ढाई एकड़ का प्लॉट आबंटित किया गया। वन से जल संसाधन, फिर राजस्व विभाग को जोगीडीह हस्तांतरित हुआ और गंगरेल प्रभावित परिवार यहां बसने लगे। बताया गया है कि अब तक 176 में से लगभग 100 को भू-स्वामी हक का पत्र मिल चुका है, शेष 76 शासकीय पट्टाधारियों को भी अगले 15 दिनों में उनके वास्तविक कब्जा के आधार पर भू-स्वामी हक का पत्र दिया जाएगा।


इस मौके पर विधायक धमतरी श्रीमती रंजना साहू ने कलेक्टर और उनके प्रशासनिक अमले का ग्रामीणों के बीच पहुंच कर उनकी समस्या सुनने और निराकरण की दिशा में ठोस कदम उठाए जाने की सराहना की। जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती कांति सोनवानी ने ग्रामीणों को आश्वस्त किया कि जल्द ही उनकी समस्याओं का निराकरण कर लिया जाएगा। इस अवसर पर जिला पंचायत सदस्य श्री खूबलाल ध्रुव, सांसद प्रतिनिधि श्री उमेश साहू सहित अनुविभागीय अधिकारी राजस्व धमतरी, नगरी और राजस्व अमला तथा ग्रामीण मौजूद रहे।