जेपी नड्डा के काफिले पर हमले के मामले में 3 आईपीएस अधिकारियों पर कार्रवाई, भड़कीं ममता बनर्जी

360

नई दिल्ली| बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा के काफिले पर हमले के मामले में केंद्र सरकार ने तीन आईपीएस अधिकारियों पर बड़ी कार्रवाई करते हुए ट्रांसफर कर दिया. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने इसपर कड़ी आपत्ति जताई है. केंद्रीय गृह मंत्रालय ने पश्चिम बंगाल सरकार से केंद्रीय प्रतिनियुक्ति के लिए तीन आईपीएस अधिकारियों को तत्काल कार्य मुक्त करने को कहा है. अधिकारियों ने कहा कि मंत्रालय ने पश्चिम बंगाल सरकार से कहा है कि आईपीएस काडर नियमों के मुताबिक, विवाद की स्थिति में राज्य को केंद्र का कहना मानना होगा.

उन्होंने कहा कि तीन आईपीएस अधिकारियों को पहले ही जिम्मेदारियां दे दी गई हैं, जिनमें भोलानाथ पांडे को बीपीआरडी का एसपी बनाया गया है, प्रवीण त्रिपाठी को एसएसबी के डीआईजी के तौर पर नियुक्ति दी गई है जबकि राजीव मिश्रा को आईटीबीपी का आईजी नियुक्त किया गया है. केंद्र सरकार के इस फैसले पर ममता बनर्जी ने कहा कि हम केंद्र द्वारा राज्य की मशीनरी को छद्म रूप से नियंत्रित करने के इस प्रयास को अनुमति नहीं देंगे. पश्चिम बंगाल विस्तारवादी और अलोकतांत्रिक ताकतों के सामने झुकने वाला नहीं है. ममता बनर्जी ने कहा, ”यह कदम, विशेष रूप से चुनावों से पहले संघीय ढांचे के बुनियादी सिद्धांतों के खिलाफ है. यह असंवैधानिक और पूरी तरह से अस्वीकार्य है!’