जींद में खाप का बड़ा फैसला, कंगना रनौत का किया जाएगा बहिष्कार

22

नई दिल्ली | अपनी बेबाक टिप्पणी के चलते एक बार फिर बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत विवादों में पड़ती हुई दिखाई दे रही हैं. नए कृषि कानूनों पर विरोध प्रदर्शन कर रहे किसानों के खिलाफ ट्वीट को लेकर कंगन रनौत के खिलाफ हरियाणा के जींद में खाप पंचायतों ने मोर्चा खोल दिया है. शनिवार को खाप ने फैसला लिया है कि वे कंगना का बहिष्कार करेंगे. गौरतलब है कि कंगना ने नए कृषि कानूनों पर किसानों को विरोध प्रदर्शन के बीच एक के बाद एक कई ट्वीट किए हैं.  कंगना ने एक ट्वीट शेयर करते हुए कहा था कि शाहीन बाग की दादी भी कृषि कानूनों को लेकर किसानों के आंदोलन से जुड़ गयी हैं और टाइम मैग्जीन में जगह बना चुकी वह दादी ‘‘100 रुपए में उपलब्ध’’ हैं. कंगना ने ट्वीट कर कहा- मेरा अनुरोध देशभर के किसानों से है कि वे आपके प्रदर्शन को किसी खालिस्तानी टुकड़े गैंग या किसी कम्युनिस्ट्स को हाईजैक ना करने दें.

इधर, दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष मंजिंदर सिंह सिरसा ने नोटिस को ट्वीट किया है और कंगना से बिना शर्त के माफी मांगने के लिए कहा है. मंजिंदर सिंह सिरसा ने कंगना के ट्वीट पर आपत्ति जताई है. उन्होंने कहा कि एक किसान की मां को 100 रुपए में उपलब्ध होने का आरोप अपमानजनक बताया. उन्होंने कहा कि उनके ट्वीट किसानों को देश विरोधी बताते हैं. किसानों को अपमान और आपत्तिजनक बयान के लिए बिना शर्त के माफी मांग लेनी चाहिए. दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष मंजिंदर सिंह सिरसा ने कहा,”हमने पहले ही कंगना रनौत को लीगल नोटिस भेज दिया है. उन्होंने एक किसान की मां को 100 रुपए में उपलब्ध रहने का आरोप लगाते हुए अपमानजनक ट्वीट किया है. उनके ट्वीट ने किसान आंदोलन को देशविरोधी के तरीके से पेश किया है. हम मांग करते हैं कि वह अपने आपत्तिजनक बयानों के लिए बिना शर्त माफी मांगे.” एक इंटरव्यू में स्वरा भास्कर ने कहा कि कंगना का काम ही जहर फैलाना रह गया है और उनकी ओर से किए जाने वाले ट्वीट एजेंडे से प्रेरित होते हैं. स्वरा ने कहा कि कंगना के ये बयान अपमानजनक और घटिया किस्म के हैं.

tushar