जिला फेडरेशन की कार्यकारिणी का पुनर्गठन

214

जिला फेडरेशन की आम बैठक में पदाधिकारी निर्वाचित।
धमतरी । शासकीय अधिकारी कर्मचारी फेडरेशन छत्तीसगढ़ की प्रथम आम सभा बैठक कर्मचारी भवन में 3:00 बजे से प्रारंभ हुई। बैठक में प्रमुख दो बिंदुओं पर फेडरेशन से जुड़े 23 घटक कर्मचारी संगठनों के जिला अध्यक्षों और प्रतिनिधि पदाधिकारियों ने अपने विचार प्रस्तुत किए, जिसमें जिला फेडरेशन की कार्यकारिणी का पुनर्गठन एवं 11 सूत्री मांगों के संदर्भ में राज्य शासन के समक्ष आगामी आंदोलन को वृहद और विस्तार रूप मेें आंदोलन की रणनीति क्या होगी, इस पर विचार विमर्श हुआ। आम सभा में सभी संघों के जिला अध्यक्षों की उपस्थिति में शासकीय अधिकारी कर्मचारी फेडरेशन जिला धमतरी के लिए निम्न पदाधिकारी सर्वसम्मति से निर्वाचित किए गए।

1-राजेंद्र चंद्राकर फेडरेशन संयोजक,* जिला अध्यक्ष, तृतीय वर्ग कर्मचारी संघ ।
2-दीपक शर्मा-फेडरेशन महासचिव**, जिला अध्यक्ष छत्तीसगढ़ कर्मचारी संघ ।


3-गोपाल शर्मा -सहसंयोजक**, प्रदेश लिपिक वर्ग शास,. कर्म. संघ।


4- मनोज वाधवानी – कोषाध्यक्ष**, जिलाध्यक्ष स्वास्थ्य कर्मचारी संघ।
5-एमएस भास्कर-संयुक्त सचिव**,
जिलाध्यक्ष शिक्षक कांग्रेस।
6-वासुदेव भोई-संयुक्तसह सचिव**, जिलाध्यक्ष पटवारी संघ।
नवनियुक्त फेडरेशन महासचिव दीपक शर्मा ने प्रेस को बताया कि जिला शाखा धमतरी के निर्वाचन पश्चात शासकीय अधिकारी कर्मचारी के फेडरेशन के प्रांतीय संयोजक अनिल शुक्ला ने सभी निर्वाचित पदाधिकारियों को ऑनलाइन अपनी शुभकामनाएं प्रेषित की, तथा राज्य शासन द्वारा द्वारा 11 सूत्री मांगों के पूर्ण नहीं होने पर प्रदेश के अधिकारियों कर्मचारियों द्वारा आगामी फरवरी माह में वृहत आंदोलन किए जाने की जानकारी दिए। आज की बैठक में निर्वाचित पदाधिकारी राजेंद्र चंद्राकर, दीपक शर्मा , गोपाल शर्मा , मनोज वाधवानी, एमएस भास्कर, वासुदेव भाई के अलावा , बैठक में विशेष रूप से पटवारी संघ के वेद प्रकाश साहू,, चंदूलाल चंद्राकर तृतीय वर्ग कर्मचारी संघ, संतराम साहू ,चंद्रभान चंद्राकर, जगजीवन मिश्रा, लिपिक वर्ग की मुकेश राज वर्मा ,संजय साहू , छत्तीसगढ़ कर्मचारी संघ के सुरेश ध्रुव, , संतोष साहू ,स्वास्थ्य कर्मचारी संघ के एस.आर. टंडन, अशासकीय अनुदान प्राप्त विद्यालय कर्मचारी संघ, हेमंत ठाकुर हाउसिंग बोर्ड के संघ , शिक्षाकर्मी संघ के सदस्यों सहित फेडरेशन के सभी घटक दल के प्रतिनिधि उपस्थित रहे ।