छोटे भाई ने दोस्तों के साथ मिलकर की बड़े भाई की हत्या

239

थाना भखारा अंतर्गत ग्राम भठेली भखारा में मामूली बात पर छोटे भाई ने दोस्तों के साथ मिलकर की बड़े भाई की हत्या, हुआ खुलासा,डांटने व दो थप्पड़ लगाने से आक्रोशित होकर बदला लेने की ठानकर गमछा से गला घोटकर की हत्या, घटना के चंद घंटे के भीतर सूक्ष्मतम छानबीन कर हत्या में संलिप्त 02 आरोपी सहित अपचारी बालक को पुलिस ने लिया हिरासत में, घटना में प्रयुक्त गमछा बरामद, 02 मोटरसाइकिल को भी किया गया जप्त, थाना भखारा पुलिस एवं साइबर सेल की त्वरित कार्यवाही

धमतरी |  29 जुलाई  को थाना भखारा क्षेत्रांतर्गत ग्राम भेंडसर जाने के मार्ग से करीबन 80 मीटर अंदर शव मिलने की सूचना पर थाना प्रभारी भखारा संतोष जैन तत्काल अपने स्टाफ के साथ मौके पर पहुंचकर घटनास्थल को सुरक्षित किए। शव की शिनाख्त टिकेंद्र उर्फ पप्पू निषाद पिता बसंत उर्फ कौशल निषाद उम्र 21 वर्ष निवासी भठेली भखारा थाना भखारा जिला धमतरी के रूप में हुई। तत्पश्चात पुलिस टीम द्वारा मौके पर परिस्थितिजन्य व भौतिक साक्ष्य एकत्रित करते हुए धारा 174 दंड प्रक्रिया संहिता के तहत मर्ग पंजीबद्ध कर शव पंचनामा एवं पोस्टमार्टम कराया गया। प्राप्त शार्ट पीएम रिपोर्ट में चिकित्सक द्वारा मृत्यु की प्रकृति हत्यात्मक लेख करने पर थाना भखारा में अज्ञात आरोपी के विरुद्ध अपराध क्रमांक 105/21 धारा 302 भा द वि के तहत अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

पुलिस अधीक्षक महोदय  प्रफुल्ल कुमार ठाकुर ने थाना प्रभारी भखारा को मामले से संबंधित हर बिंदुओं की बारीकी से जांच करते हुए त्वरित वैधानिक कार्यवाही करने व अज्ञात आरोपी की पता तलाश कर गिरफ्तार करने निर्देशित किये। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्रीमती मनीषा ठाकुर रावटे के मार्गदर्शन व पुलिस अनुविभागीय अधिकारी कुरूद अभिषेक केसरी के पर्यवेक्षण में मामले की हर बिंदुओं व कड़ी को एक दूसरे से जोड़ते हुए बारीकी से जांच की जा रही थी।

मामले के विवेचना क्रम में ज्ञात हुआ कि मृतक टिकेंद्र उर्फ पप्पू निषाद ने घर के पैसे से नई मोटरसाइकिल खरीदी थी जिसे घटना के 15 दिन पूर्व उसका छोटा भाई चलाने के लिए ले जा रहा था। जिस बात पर मृतक ने अपने छोटे भाई को खूब डांटा, साथ ही उसे दो-तीन थप्पड़ भी लगाया तथा दोनों के मध्य खेत में काम करने की बात को लेकर भी झगड़ा हुआ था, जिससे वह बहुत कुंठित था। मामले की सूक्ष्मतम जांच के दौरान मृतक के परिजनों से पूछताछ में उसके छोटे भाई द्वारा संतुष्टिप्रद जवाब नहीं देने व अपने तथा बड़े भाई के दोस्तों का नाम नहीं बताते हुए गुमराह करने पर संदेह हुआ। जिस पर घटना के दिन व उससे पूर्व के बारे में पृथक-पृथक विस्तृत पूछताछ करने पर अंततः वह टूट गया और बड़े भाई के द्वारा डांटने-मारने से आक्रोशित होना बताया तथा उससे बदला लेने के लिए उसकी हत्या करने का प्लान बनाया। सुनियोजित ढंग से बनाए गए प्लान में उसने मोहल्ले के राकेश नेताम व प्रदीप साहू को शामिल कर सही समय तथा मौके की तलाश करने लगा। घटना  28 जुलाई 2021 को ये तीनों मिलकर पूर्व नियोजित ढंग से मृतक टिकेश उर्फ पप्पू निषाद को अपने साथ शराब भट्टी ले गए तथा अपने आप को छुपाते हुए उसे रुपए देकर शराब खरीदने के लिए भेजें। सभी साथ बैठकर शराब पिए, टिकेंद्र उर्फ पप्पू निषाद को ज्यादा शराब पिलाए जिससे उसे तुरंत नशा हो गया। फिर घर वापस लौटते समय फ्रेंड्स ढाबा के आगे सड़क मार्ग से करीबन 80 मीटर अंदर ले जाकर हल्का नीला आसमानी रंग के गमछा से गला घोटकर हत्या कर देना बताया।

मामले में त्वरित कार्यवाही करते हुए आरोपी राकेश नेताम, प्रदीप साहू एवं अपचारी बालक को तत्काल हिरासत में लिया गया। मेमोरेंडम कथन, अपराध स्वीकारोक्ति एवं उपलब्ध साक्ष्य के आधार पर अपने बड़े भाई की हत्या करने वाले अपचारी बालक तथा घटना में संलिप्त उसके 02 साथियों को विधिवत गिरफ्तार कर वैधानिक कार्यवाही किया गया। गिरफ्तार आरोपियों को न्यायिक रिमांड हेतु आज माननीय न्यायालय के समक्ष पेश किया जाएगा।

गिरफ्तार आरोपियों के नाम
01. राकेश नेताम पिता नकुल नेताम उम्र 31 वर्ष साकिन वार्ड नंबर 13 भठेली भखारा थाना भखारा जिला धमतरी
02. प्रदीप साहू पिता चतुर राम साहू उम्र 20 वर्ष साकिन वार्ड नंबर 11 भठेली भखारा थाना भखारा जिला धमतरी
एवं 01 अपचारी बालक

जप्त सामग्री
1. एक काला रंग का सुपर स्प्लेंडर मोटरसाइकिल क्रमांक CG 05 X 8726 कीमती ₹30000/-
2. एक हल्का नीला रंग का एचएफ डीलक्स मोटरसाइकिल क्रमांक CG 05 AL 5074 कीमती ₹45000/-
3. घटना में प्रयुक्त हल्का नीला आसमानी रंग का गमछा

उक्त संपूर्ण कार्यवाही में थाना प्रभारी भखारा संतोष जैन एवं उनकी टीम सहायक उपनिरीक्षक तुलसीराम मिथलेश, प्रधान आरक्षक जैतराम जोगी, आरक्षक धनीराम साहू, मुकेश सिंहा, डोमेंद्र वर्मा, दिनेश रात्रे, अवनीश विश्वकर्मा, महिला आरक्षक खेमेश्वरी साहू एवं साइबर सेल से उप निरीक्षक नरेश बंजारे, प्रधान आरक्षक अनिल यदु, आरक्षक झमेल सिंह राजपूत, सितलेश पटेल, कृष्णा पाटिल, कमल जोशी, धीरज डड़सेना शामिल रहे।