चंदा हाथियों के दल ने उजाड़ा गरीबों का आशियाना, विधायक रंजना ने त्वरित राहत पंहुचाने के दिये निर्देश

66

जनप्रतिनिधियों ने कहा, वनविभाग दें शीघ्र मुआवजा
धमतरी | रोजगार के अभाव में जहां डुबान क्षेत्र के रहवासी आर्थिक रूप से जूझ रहे हैं | ऐसे में चंदा हाथी का दल डूब प्रभावित क्षेत्र में परेशानी का सबब बनता जा रहा है | इस ओर क्षेत्र की विधायक रँजना डिपेन्द्र साहू ने कई बार ध्यान आकर्षित कराया था | फिर भी इस मामले को हल्के में लिए जाने की परिणीति यह हुई कि किसी तरह अपना जीवनयापन करने वाले अरौद ग्राम पंचायत के आश्रित ग्राम और उरपुट्टी के कमार परिवार चैतू राम मंडावी तथा तुलसीराम मंडावी के परिवार के ऊपर आफत का पहाड़ हाथियों ने गिरा दिया जिसमें उनका आशियाना पूरी तरह उजड़ गया है | गौरतलब है कि यह घटना अर्ध रात्रि को घटित होने के कारण  दोनों परिवार को दूसरे के घर में रात गुजारनी पड़ी| गांव के लोग भी डर से ठीक से सो नहीं पाए | ग्राम में चेतराम मंडावी अपनी पत्नी व बेटा, बहू के साथ निवासरत था | वही तुलसीराम मंडावी के परिवार में 3 लड़कों के अलावा तीन बहू छोटे-छोटे बच्चे तथा उनकी पत्नी निवासरत थी| ईश्वर का शुक्र रहा कि किसी को जान माल की हानि नहीं हुई | इस घटना की जानकारी विधायक श्रीमती रँजना साहू को होने पर उन्होंने वन मंडलाअधिकारी अमिताभ बाजपेई सहित विभाग के एसडीओ रेंजर को त्वरित रूप से निर्देश देते हुए पीड़ित परिवार को हर संभव सहयोग प्रदान करने की बात कही |

विधायक श्रीमती साहू ने वहां के सरपंच से दूरभाष के माध्यम से चर्चा करते हुए पीड़ित परिवार को हर संभव सहयोग प्रदान करने हेतु आश्वस्त किया है साथ ही संकट की घड़ी में उन्हें ढांढस बधांते हुए कहा है कि वे जनप्रतिनिधि के रूप में हर स्तर पर परिवार के साथ खड़ी है तथा उन्हें सहयोग देने के लिए प्रतिबद्ध है। ज्ञात हो कि उरपुट्टी के ग्रामीण पूर्णतः मछली पालन तथा जंगल के ऊपर आश्रित है |ऐसी परिस्थितियों में जंगली हाथियों का आक्रमण उन परिवारों के ऊपर भीषण आपदा व संकट की श्रेणी में आता है| विधायक ने कहा कि वन विभाग के जिम्मेदार अधिकारी तथा वन मंत्री से मिलकर क्षेत्र को हाथियों की दहशत से मुक्त करने पहल करेंगी।
हाथियों द्वारा आक्रमण किए जाने की जानकारी मिलने पर वहां पहुंचे जिला पंचायत सदस्य खूब लाल ध्रुव, जनपद सदस्य शैलेश मंडावी, सरपंच दिनेश नाथ, उप सरपंच विनोद नेताम, पूर्व सरपंच कुंभज नेताम ने वन विभाग से मांग की है कि पीड़ित परिवार को अविलंब मुआवजा राशि प्रदान किया जाए ताकि फिर से वे अपने रोटी ,कपड़ा और मकान की व्यवस्था कर जीवन को पटरी पर ला सकें | नगर निगम के पूर्व सभापति राजेंद्र शर्मा ने कहा है कि पहले से ही क्षेत्र के किसान माहु का प्रकोप, बेमौसम बारिश सहित अनेक प्राकृतिक आपदा से पीड़ित है| डूबान निवासियों के  लिए परेशानी का सबब बने हाथियों से भी मुक्ति शीघ्र दिलाया जाना आवश्यक है नहीं तो आने वाले समय में गंभीर संकट का सामना करना पड़ सकता है | 

tushar