क्यूं सहूँ सफर में suffer : 112 पर करें डायल, मदद के लिए तत्काल पहुंचेगी पुलिस  

23

धमतरी | महिलाओं को बस में सफ़र के दौरान आने वाली परेशानी तथा उनकी सुरक्षा को लेकर  पुलिस काफी संवेदनशील है| इसी तरह नाबालिग बच्चों के प्रति अपराधों की रोकथाम को लेकर जागरूकता कार्यक्रम चला रही है| मजबूत पुलिस विश्वसनीय पुलिस ध्येय वाक्य के अंतर्गत महिलाओं एवं नाबालिक बच्चों की सुरक्षा हेतु जागरूकता कार्यक्रम क्यूं सहूं सफर में Suffer का  संचालन किया जा रहा है | पुलिस के उच्च अधिकारियों ने बताया कि इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य महिलाओं को सफल यात्रा के दौरान सुरक्षा एवं नाबालिक बच्चों के प्रति अपराधों की रोकथाम हेतु जागरूक करना है।

वैश्विक महामारी कोरोना वायरस (कोविड-19) के बढ़ते संक्रमण के दौरान बस का संचालन बंद होने से क्यूं सहूँ सफर में suffer कार्यक्रम में शिथिलता आई थी। पुलिस अधीक्षक  बी. पी. राजभानू द्वारा यात्रा के दौरान महिलाओं एवं बच्चों की सुरक्षा के मद्देनजर क्यूं सहूँ सफर में suffer, आपकी सुरक्षा हमारा दायित्व कार्यक्रम पुनः संचालित किया गया है। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्रीमती मनीषा ठाकुर रावटे के मार्गदर्शन में शक्ति टीम द्वारा पुनः क्यूं सहू सफर में suffer कार्यक्रम के तहत यात्रा के दौरान महिलाओं एवं बच्चों की सुरक्षा हेतु उन्हें जागरूक किया जा रहा है।

उप पुलिस अधीक्षक श्रीमती सारिका वैद्य, प्रशिक्षु उप पुलिस अधीक्षक सुश्री रागिनी तिवारी, यातायात प्रभारी निरीक्षक श्रीमती सत्यकला रामटेके, निरीक्षक श्रीमती रीना कुजुर एवं सूबेदार रेवती वर्मा के द्वारा समय-समय पर दिए गए दिशा निर्देश पर शक्ति टीम द्वारा धमतरी बस स्टैंड से गुजरने वाली बसों में धमतरी से संबलपुर तक, धमतरी से नहर नाका तक एवं धमतरी से श्यामतराई तक बस में बैठी महिलाओं एवं बच्चों को उनके अधिकारों एवं कानून की जानकारी दी जा रही है | साथ ही छत्तीसगढ़ पुलिस के नंबर डायल 112 की जानकारी देकर एंड्राइड मोबाइल में एप्लीकेशन डाउनलोड करने एवं आवश्यकता पड़ने पर उसके SOS बटन को प्रेस करने पर पुलिस द्वारा आपको त्वरित सहायता उपलब्ध कराई जाएगी | इसकेअलावा महिलाओं व नाबालिग बच्चों को सुरक्षा संबंधी उपायों के बारे में  भी जानकारी दी गई।

tushar