एसडीएम ने राजस्व टीम के साथ विवादित बाईपास रोड का निरीक्षण किया

505

टकेश्वरपुरी गोस्वामी 

भखारा| नगर में बाईपास निर्माण में प्रभावित हो रहे किसानों को 19 अगस्त को एसडीएम ने आपत्ति दर्ज कराने अंतिम अवसर दिया था|  जहां 40 किसानों ने कुरूद पहुंचकर बाईपास को अति शीघ्र बनाने सहमति दी | वही 4 किसान सहमति पत्र में हस्ताक्षर नहीं किए थे जिन्हें एसडीएम ने 27 अगस्त को फिर पेशी दिया था |उस दिन आपत्तिकर्ता किसान पेशी में नहीं गए| आपत्तिकर्ता किसान का कहना था कि हमें एसडीएम ने लिखित में नोटिस नहीं भेजा था इसलिए वे पेशी में नहीं गए| 31 अगस्त को दोपहर कुरुद एसडीएम योगिता देवांगन  ने भखारा तहसीलदार श्री सोनपिपरे,  पटवारी पाल सिंह ध्रुव एवं कोटवार के साथ निर्माणाधीन विवादित बाईपास सड़क का निरीक्षण किया| उन्होंने इस दौरान कितने किसान बाईपास रोड निर्माण में प्रभावित हो रहे हैं, कितने किसानों के खेतों में गिट्टी एवं मुरुम डाला गया है और किस किस खेत के मालिक आपत्ति कर रहे हैं इन सभी बातों को ध्यान रखने के लिए मौके पर जांच किया|
एसडीएम द्वारा निरीक्षण किये जाने की जानकारी जैसे ही आपत्तिकर्ता किसानों को लगी चारों किसान फिर सक्रिय हो गए और आपत्ति के लिए कलेक्ट्रेट का दरवाजा फिर से खटखटाया है | एसी जानकारी सूत्रों से मिली  है | बहरहाल प्रशासन इस विवादित बाईपास रोड निर्माण  पर क्या निर्णय लेता है | यह अभी गर्त  मे  है|


ज्ञात हो कि भखारा नगर में बाईपास निर्माण में नगर के 4 किसानों द्वारा अड़ंगा डालने के कारण भखारा नगर के बाहर बाईपास नहीं बन पाया है | बाईपास के आधा हिस्सा में डामरीकरण हो चुका है | आवाजाही भी शुरू हो चुकी  है | आधा बाईपास निर्माण  4 किसानों द्वारा आपत्ति करने की वजह से रुका हुआ है|  जिसे बनाने के लिए नगर वासियों द्वारा लगातार मांग की जा रही है|